मेलबर्न टेस्ट: भारत ने 443 रनों पर घोषित की पहली पारी, जवाब में ऑस्ट्रेलिया 8/0

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 दिसंबर):  भारत औरऑस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न मने खेले जा रहे बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारत ने अपनी पहली पारी 443 रनों पर घोषित कर दी। भारतीय टीम ने मैच के दूसरे दिन, दो विकेट पर 215 रन से आगे खेलना शुरू किया. कप्‍तान विराट कोहली ने अपना अर्धशतक पूरा करने में देर नहीं लगाई। दिन के पहले ही ओवर की आखिरी गेंद पर उन्‍होंने तीन रन लेकर अपना 20वां टेस्‍ट अर्धशतक पूरा किया। इस दौरान उन्‍होंने 110 गेंदों का सामना किया और छह चौके लगाए। पारी के 91वें ओवर में पुजारा के चौथे के साथ जल्‍द ही इन दोनों बल्‍लेबाजों के बीच शतकीय साझेदारी पूरी हुई.पहले घंटे के खेल में भारतीय बल्‍लेबाजों ने कोई जोखिम नहीं उठाते हुए सावधानी से बल्‍लेबाजी की.तेज गेंदबाजों को सफलता न मिलते देखकर ऑस्‍ट्रेलियाई कप्‍तान ने स्पिनर नाथन लियोन को आक्रमण पर लगाया।  

चेतेश्‍वर पुजारा धीरे-धीरे लेकिन मजबूती के साथ शतक की ओर बढ़ रहे थे। भारतीय टीम के 250 रन 105.3 ओवर में पूरे हुए.पुजारा ने ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की गेंद पर चौका जड़ते हुए अपना 17वां टेस्‍ट शतक पूरा किया। इस दौरान उन्‍होंने 280 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके जमाए.पारी के 114वें ओवर में पुजारा ने ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की गेंद पर चौका जड़ते हुए अपना 17वां टेस्‍ट शतक पूरा किया। इस दौरान उन्‍होंने 280 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके जमाए। पुजारा की ओर से शतक पूरा करने में ली गई यह सबसे ज्‍यादा गेंदें रहीं। इससे पहले उन्‍होंने वर्ष 2012 में इंग्‍लैंड के खिलाफ मुंबई में 248 गेंदों पर शतक पूरा किया था. पहले सेशन का खेल पूरी तरह से भारतीय बल्‍लेबाजों के नाम रहा। इस दौरान पुजारा और विराट की जोड़ी ने 28 ओवर में 62 रन जोड़े। सबसे बड़ी बात रही है कि इस दौरान टीम ने कोई विकेट नहीं गंवाया। लंच के समय टीम इंडिया का स्‍कोर दो विकेट खोकर 277 रन था।लंच के बाद भी पुजारा और विराट ने शानदार बल्‍लेबाजी जारी रखी। हर बनते रन के साथ भारतीय टीम की स्थिति मजबूत हो रही थी और मेजबान टीम पर दबाव बढ़ता जा रहा थ। .टीम इंडिया का तीसरा विकेट विराट कोहली (82 रन, 204 गेंद, नौ चौके) के रूप में गिरा। उन्‍हें तेज गेंदबाज मिचेल स्‍टॉर्क ने एरॉन फिंच से कैच कराया। विराट आक्रामक शॉट खेलने की कोशिश में थर्डमैन बाउंड्री पर लपके गए और लगातार दूसरा शतक बनाने से चूक गए. टीम इंडिया के कप्‍तान ने पर्थ टेस्‍ट में शतक जमाया था। कोहली ने पुजारा के साथ 170 रन की साझेदारी निभाई। 300 रन तक स्‍कोर पहुंचने के पहले सेट बैट्समैन चेतेश्‍वर पुजारा के भी आउट होने से भारतीय टीम को बड़ा झटका लगा। पुजारा (106 रन, 319 गेंद, 10 चौके) को पैट कमिंस ने बोल्‍ड किया. यह गेंद नीचे रहते हुए 'मिस्‍टर डिपेंडेबल' पुजारा की डिफेंस को भेद गई। कमिंस का यह तीसरा विकेट रहा। टीम इंडिया के 300 रन 126.3 ओवर में पूरे हुए। भारतीय टीम के स्‍कोर को इसके बाद आगे बढ़ाने की कमान अजिंक्‍य रहाणे और रोहित शर्मा ने संभाली। इस दौरान रहाणे स्‍वभाव के विपरीत रोहित के मुकाबले अधिक तेजी से बल्‍लेबाजी कर रहे थे। चाय के समय टीम इंडिया का स्‍कोर चार विकेट खोकर 346 रन था। अजिंक्‍य रहाणे 30 और रोहित शर्मा 13 रन बनाकर क्रीज बल्लेबाज़ी कर रहे थे।

टी-ब्रेक के बाद पारी के 147वें ओवर में रोहित शर्मा दो बार आउट होते होते बचे। ओवर की दूसरी गेंद पर उनके खिलाफ एलबीडब्‍ल्‍यू की जोरदार अपील हुई. हालांकि रिप्‍ले में दिखा कि गेंद विकेट से थोड़ी सी बाहर थी।  इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर उनका कैच बैकवर्ड स्‍क्‍वेयर लेग पर अतिरिक्‍त खिलाड़ी पीटर सिडल ने छोड़ दिया। आखिरी सेशन में भारतीय टीम का पहला विकेट अजिंक्‍य रहाणे (34 रन, 76 गेंद, दो चौके) के रूप में गिरा, जिन्‍हें नाथन लियोन ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया। रहाणे के स्‍थान पर ऋषभ पंत बैटिंग के लिए आए। आज ऑस्‍ट्रेलियाई टीम की फील्डिंग आज निराशाजनक रही। आखिरी सेशन में इसके खिलाड़ि‍यों ने दो आसान कैच टपकाए। अतिरिक्‍त खिलाड़ी सिडल ने रोहित शर्मा का कैच छोड़ा जबकि ऋषभ पंत को पैट सिमंस ने जीवनदान दिया। बदकिस्‍मत गेंदबाज दोनों ही मौकों पर नाथन लियोन रहे। भारतीय टीम के 400 रन 161.5 ओवर में पूरे हुए। वहीँ, रोहित शर्मा का अर्धशतक 97 गेंदों पर चार चौकों की मदद से पूरा हुआ। रोहित और पंत की साझेदारी को तोड़ने के लिए ऑस्‍ट्रेलिया ने 166 ओवर के बाद नई गेंद ली। नई गेंद आते ही रिषभः पंत आउट हो गए फिर बल्लेबाज़ी करने आये जडेजा भी  जल्दी ही आउट हो गए फिर भारत ने अपनी पहली पारी 443 रनों पर घोषित कर दी। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया का स्कोर -8/0. सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच (3 नाबाद) और मार्कस हैरिस (5 नाबाद) क्रीज पर मौजूद।