सिडनी वनडे: ऑस्ट्रेलिया ने भारत को जीत के लिए दिया 289 रनों का लक्ष्य

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जनवरी):  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जा रहे पहले वनडे में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ने भारत को जीत के लिए 289 रनों का लक्ष्य दिया है। 50 ओवर की समाप्ति पर ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 289/5 रन रहा। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पीटर हैंड्सकॉम्ब ने सबसे ज्यादा 73 रनों की पारी खेली, साथ ही मार्कस स्टोनिस ने 47* रनों की शानदार पारी खेली।  भारत की तरफ से भुवनेश्वर और कुलदीप ने 2 विकेट और जडेजा ने 1 विकेट लिया। ऑस्ट्रेलिया के लिए तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उस्मान ख्वाजा ने अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 81 गेंदों में 59 रन बनाए। अपनी पारी में उन्होंने 6 शानदार चौके भी लगाए। उनका विकेट 133 के कुल स्कोर पर गिरा। टिककर बल्लेबाजी कर रहे उस्मान को रवींद्र जडेजा ने 29वें ओवर की दूसरी गेंद पर आउट किया। वह जडेजा की गेंद को पिच पर पड़ने के बाद समझ नहीं पाए और एलबीडब्ल्यू हो गए।

इसके पहले शॉन मार्श ने भी अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 70 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 54 रन बनाए। यह उनके वनडे क्रिकेट करियर का 13वां अर्धशतक है। उन्हें 38वें ओवर की तीसरी गेंद पर कुलदीप यादव ने पवेलियन की का रास्ता दिखाया। वह कुलदीप की गेंद पर बड़ा शॉट मारने की फिराक में मोहम्मद शमी के हाथों लपके गए। उनका विकेट 186 के स्कोर पर गिरा। उन्होंने बेहद संभलकर की और अपनी टीम के लिए दो अहम साझेदारियां की। मार्श नेउस्मान ख्वाजा के साथ  तीसरे विकेट के लिए 92 और पीटर हैंड्सकॉम्ब के साथ चौथे विकेट के लिए 53 रन जोड़े।

अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे सलामी बल्लेबाज एलेक्स केरी बड़ी पारी नहीं खेल सके और अपना विकेट गंवा बैठे। उन्होंने 31 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 24 रन बनाए। उन्हें 10वें ओवर की पांचवीं गेंद पर कुलदीप यादव ने अपना शिकार बनााया। उन्होंने कुलदीप की गेंद को करीब से खेलने की कोशिश की जिसका खामियाजा उन्हें आउट होकर भुगतना पड़ा। उन्होंने दूसरे विकेट के लिए उस्मान ख्वाजा के साथ 33 रन की साझेदारी की।

आज पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने निराशानजक आगाज किया। मेजबान टीम का पहला विकेट महज 8 के स्कोर पर गिरा गया। भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में प्रभावी प्रदर्शन करने में नाकाम रहे सलामी बल्लेबाज एरोन फिंच वनडे सीरीज के पहले मैच भी जल्द पवेलियन लौट गए। वह 11 गेंदों में 6 रन बनाकर बोल्ड हो गए। फिंच को तीसरे ओवर की दूसरी गेंद पर भुवनेश्वर कुमार ने पवेलियन की राह दिखाई। वह भुवनेश्वर की अंदर की ओर आती गेंद को भांप नहीं पाए और गलत शॉट खेल बैठे।

वनडे कप्तान फिंच का बल्ला टेस्ट सीरीज में भी खामोश रहा था। उन्होंने तीन मैचों में एक अर्धशतक की बदौलत 97 रन बनाए थे। वहीं, फिंच का विकेट लेने के साथ ही भुवनेश्वर ने एक खास उपलब्धि अपने नाम कर ली। वो भारत की ओर से एकदिवसीय क्रिकेट में विकेटों का शतक पूरा करने वाले 18वें गेंदबाज बन गए हैं। भुवी ने 100वां वनडे विकेट करियर के 96वें मैच में हासिल किया।