ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ व्हाइट वॉश से चूका भारत, 21 रन से हारा बेंगलुरु वनडे

बेंगलुरु  (28 सितंबर): बेंगलुरु में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए चौथे वनडे मुकाबले में टीएम इंडिया का 21 रन से हार मिली है। इस तरह भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 वनडे मुकाबले की सीरीज में  व्हाइट वॉश करने से चुक गया है। अब तक खेले गए चार मैच में भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3-1 से सीरीज में आगे हैं। इस हार से विराट कोहली लगातार 9 मैच जीतने का धोनी का रिकॉर्ड नहीं तोड़ सके।विराट कोहली और धोनी दोनों ने लगातार 9-9 मैच जीते हैं। हालांकि भारतीय टीम पहले ही सीरीज पर  कब्जा जमा चुकी है।

सीरीज का पांचवां और आखिरी मैच 1 अक्तूबर को नागपुर में खेला जाएगा। इसके बाद दोनों देशों के बीच 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेली जाएगी। 7 अक्टूबर को महेंद्र सिंह धौनी के होमटाउन रांची में पहला टी-20 खेला जाएगा। वहीं  इसके बाद 10 अक्टूबर को गुवाहाटी में दूसरा और 13 अक्टूबर को हैदराबाद में तीसरा और अंतिम टी-20 मैच खेला जाएगा। 

इस तरह ऑस्ट्रेलिया ने चौथे एकदिवसीय मैच में भारत को 21 रन से हराकर सीरीज में अपनी पहली जीत दर्ज की। 335 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 8 विकेट खोकर 313 रन ही बना सकी। उमेश यादव 2 और मोहम्मद शमी 6 रन बनाकर नाबाद रहे। इससे पहले केदार जाधव कप्तान विराट कोहली के आउट होने के बाद मैदान पर आए हैं।  वहीं, हार्दिक पंड्या रोहित शर्मा के आउट होने के बाद मैदान में आए थे।कोहली 21 रन के स्कोर पर नाथन कोल्टर नील का शिकार बने। इससे पहले रोहित शर्मा 65 के स्कोर पर रना आउट हो गए थे। रहाणे और रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए 106 रन की साझेदारी की थी। रहाणे 53 रन बनाकर आउट हुए।  इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में 5 विकेट खोकर 334 रन बनाए। भारत की तरफ से उमेश यादव ने 4 ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। टीम ने बेहतरीन शुरुआत करते हुए 231 रन पर अपना पहला विकेट गंवाया। ओपनर आरोन फिंच (94) और डेविड वार्नर (124) ने भारत के खिलाफ रिकॉर्ड साझेदारी करते हुए पहले विकेट के लिए 231 रन जोड़े। आस्ट्रेलिया की तरफ से भारत के खिलाफ वनडे में पहले विकेट के लिए यह सबसे बड़ी साझेदारी है।  डेविड वार्नर को मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला। वार्नर ने 119 गेंदों में 12 चौके और चार छक्के लगाए। वहीं फिंच ने 96 गेंदों में 10 चौके और तीन छक्के लगाए।