रोहित भी लगा सकते थे शतक मगर कोहली ने घोषित की पारी, भड़के फैंस




न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 दिसंबर): भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न में खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में भारत अच्छी स्तिथि में है। आज के दिन चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली के बीच तीसरे विकेट के लिए हुई 170 रनों की साझेदारी ने भारत को मलबर्न मैच में मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। भारत ने सात विकेट के नुकसान पर 443 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की। मैच में भारत की पकड़ मजबूत है, लेकिन इसके बावजूद फैंस टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से नाराज हैं। इसकी वजह है 443 रन के स्कोर पर रवींद्र जडेजा के रूप में टीम इंडिया का सातवां विकेट गिरने के बाद कोहली का पारी घोषित करना।

जिस वक़्त कोहली ने पारी घोषित की उस वक्त रोहित शर्मा 63 रनों पर नाबाद थे और सभवत: उनके पास ऑस्ट्रेलिया की धरती पर अपने पहले टेस्ट शतक को पूरा करने का मौका था, लेकिन कप्तान विराट के इस फैसले से उनके साथ से यह मौका फिसल गया। कुछ फैंस ने विराट कोहली को राहुल द्रविड़ की तरह भी बताया, जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ साल 2004 में खेले गए मुल्तान टेस्ट में उस समय पारी घोषित कर दी जब सचिन 194 रनों पर नाबाद थे।








आपको बता दें कि भारत ने सात विकेट के नुकसान पर 443 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की। दिन का खेल समाप्त होने तक ऑस्ट्रेलिया ने बिना कोई विकेट खोए आठ रन बना लिए हैं। सलामी बल्लेबाज एरॉन फिंच (3 नाबाद) और मार्कस हैरिस (5 नाबाद) क्रीज पर मौजूद हैं। पुजारा और कोहली ने गुरुवार को पहले दिन के स्कोर दो विकेट पर 215 रनों से आगे खेलना शुरू किया और शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत के स्कोर को आसानी से 300 से पार ले गए।


ऑस्ट्रेलिया की तरफ से स्टार्क ने 293 के कुल योग पर कोहली (82) को आउट करके भारतीय टीम को पहला झटका दिया। कोहली, फिंच के हाथों लपके गए. कप्तान ने अपनी पारी में 204 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके लगाए। पुजारा भी ज्यादा देर तक क्रीज पर टिक नहीं पाए और पैट कमिंस ने उन्हें बोल्ड कर पवेलियन वापस भेजा। पुजारा ने 319 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके मारे। इसके बाद, अजिंक्य रहाणे (34) और रोहित शर्मा (नाबाद 63) ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाया। रहाणे को बेहतरीन फॉर्म में चल रहे स्पिन गेंदबाज नाथन लियोन ने आउट किया।

रहाणे को पवेलियन वापस भेजने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया की मुश्किलें कम नहीं हुईं। रोहित ने रहाणे के जाने के बाद विकेटकीपर ऋषभ पंत के साथ छठे विकेट के लिए 76 रन जोड़े और भारत के स्कोर को 400 के पार ले गए। पंत को 39 के निजी स्कोर पर स्टार्क ने आउट किया।  हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जड़ेजा बल्ले से कुछ खास प्रभाव नहीं डाल पाए. उन्हें चार के निजी स्कोर पर जोश हेजलवुड ने अपना शिकार बनाया। जिसके  बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भारत की पारी को 443 रनों के स्कोर पर घोषित कर दिया।