कप्तान कोहली बोले, इस वजह से पर्थ टेस्ट हारा भारत


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 दिसंबर): आस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया को 147 रनों की हार मिली है। पर्थ में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में  287 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया महज 140 रनों पर सिमट गई। ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 326 और दूसरी पारी में 283 रन बनया, जबकि पहली पारी में भारत 243 और दूसरी पारी में महज 140 रन बना सका। इस तरह से 4 टेस्ट मैचों का सीरीज फिलहाल 1-1 की बराबरी है। भारत ने एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 31 रनों से हराया था। अब चार टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मुकाबला 26 दिसंबर से मेलबर्न में खेला जाएगा।



भारत को पर्थ टेस्ट में स्पीनर की काफी कमी खली। पहले टेस्ट में शानदार गेंदबाजी करने वाले अश्विन फीट नहीं होने की वजह से दूसरा टेस्ट नहीं खेल पाए। वहीं कप्तान कोहली ने अश्विन की रविंद्र जडेजा को टीम में शामिल नहीं किया। पर्थ टेस्ट के खत्म होने के बाद एक सवाल का जवाब देते हुए कप्तान कोहली ने कहा कि उन्हें अपने 4 फास्ट बोलरों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी और इसीलिए उन्होंने स्पिन गेंदबाज रविंद्र जडेजा को आंतिम 11 में शामिल नहीं किया। मैच के बाद कप्तान कोहली ने कहा, 'हम कुछ हिस्सों में अच्छा खेले और इस बात से सीख लेकर हम अगले मैच में उतरेंगे। आस्ट्रेलियाई टीम की तारीफ करते हुए कोहली ने कहा, 'ऑस्ट्रेलिया ने हमसे बेहतर क्रिकेट खेला और वह जीतना डिजर्व करते थे।'


कप्तान कोहली ने माना कि अगर लक्ष्य 30-40 कम होता तो भारत का प्रदर्शन अच्छा रहता। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम ने बेहतर प्रदर्शन किया और बोर्ड पर स्कोर खड़ा किया। कोहली अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश नजर आए। उन्होंने कहा, 'हमारे गेंदबाजों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया वह वाकई काबिले-तारीफ है। खास तौर पर दूसरी पारी में हमारे गेंदबाजों का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा।' कोहली से जब पूछा गया कि क्या इस पिच पर जडेजा को मौका दिया जाना चाहिए था तो इस पर उन्होंने कहा कि पिच देखने के बाद उन्हें ऐसा नहीं लगा। कोहली ने कहा, 'जब हमने पहली बार पिच देखी तो हमें लगा तेज गेंदबाज काफी होंगे। लेकिन नाथन लायन ने इस विकेट पर काफी अच्छी गेंदबाजी की।

 

टीम में भुवनेश्वर कुमार की जगह उमेश यादव को तरजीह देने पर कोहली ने कहा कि, 'भुवी ने हाल ही में कुछ ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेले हैं। उमेश यादव ने अपने पिछले टेस्ट मैच में 10 विकेट लिए थे और वह अच्छी लय में दिख रहे थे, तो हमने उन्हें चुना। अगर अश्विन फिट होते तो हम उनके नाम पर विचार कर सकते थे। ईमानदारी से कहूं तो हमने कभी स्पिन विकल्प के बारे में नहीं सोचा। 'भारतीय कप्तान ने कहा कि अब वह अगले मैच के बारे में विचार कर रहे हैं।