Blog single photo

AUSvsIND: पहले टेस्ट में बने सभी आंकड़ों पर एक नज़र

टीम इंडिया ने 31 रन से ऐडिलेड टेस्ट जीत लिया है। 15 साल बाद ये पहला मौका है जब भारत ने एडिलेड के ओवल के मैदान में कोई टेस्ट मैच जीता है। इससे पहले भारत ने यहां अपना आखिरी टेस्ट मैच दिसंबर 2003 में सौरभ गांगुली की कप्तानी में जीता था।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 दिसंबर): टीम इंडिया ने 31 रन से ऐडिलेड टेस्ट जीत लिया है। 15 साल बाद ये पहला मौका है जब भारत ने एडिलेड के ओवल के मैदान में कोई टेस्ट मैच जीता है। इससे पहले भारत ने यहां अपना आखिरी टेस्ट मैच दिसंबर 2003 में सौरभ गांगुली की कप्तानी में जीता था। 

भारतीय टीम ने इस मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया को चार विकेट से मात दी थी। इतना ही नहीं भारत ने 10 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में कोई टेस्ट मैच जीता है। आखिरी बार भारत को 2008 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ टेस्ट में जीत मिली थी। इसके साथ ही ऑस्ट्रेलियाई धरती पर भारत को 45 टेस्ट मैचों में छठी जीत हासिल हुई। 

आपको बता दें कि कंगारू गेंदबाजों ने टीम इंडिया को पहली पारी में 250 रनों पर समेट दिया था।  इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने भी ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 235 रनों पर ऑलआउट कर दिया। इस तरह पहली पारी के आधार पर भारत को 15 रनों की बढ़त मिली। वहीं भारत की दूसरी पारी 307 रन पर सिमट गई। इसी के साथ ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रनों का लक्ष्य दिया। 323 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पूरी कंगारू टीम 291 रनों पर ही सिमट गई। 

आइये एक नज़र डालते हैं पहले टेस्ट में बने प्रमुख आंकड़ों पर: 

-ऑस्ट्रेलिया में भारत की कुल छठी टेस्ट जीत। इससे पहले भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1977 (मेलबर्न), 1978 (सिडनी), 1981 (मेलबर्न), 2003 (एडिलेड) और 2008 (पर्थ) में हराया था। 

-ऋषभ पंत (11 कैच) ने एक मैच में विकेटकीपर के सबसे ज्यादा कैच के मामले में नया भारतीय रिकॉर्ड बनाया और साथ ही जैक रसेल (इंग्लैंड, 1995 vs दक्षिण अफ्रीका) और एबी डीविलियर्स (दक्षिण अफ्रीका, 2013 vs पाकिस्तान) के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। 

-2018 में भारत की एशिया से बाहर तीसरी जीत। एक साल में एशिया से बाहर सबसे ज्यादा टेस्ट जीत का रिकॉर्ड बराबर। इससे पहले भारत ने 1968 में न्यूजीलैंड में तीन टेस्ट जीते थे। 

-ऑस्ट्रेलिया में पहली बार भारत ने सीरीज के पहले टेस्ट में जीत हासिल की। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में सीरीज के पहले टेस्ट में भारत को नौ बार हार का सामना करना पड़ा था और दो मैच ड्रॉ रहे थे। 

-विराट कोहली पहले एशियाई कप्तान जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट जीते। भारत की तरफ से राहुल द्रविड़ और महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में जीत हासिल की, लेकिन ऑस्ट्रेलिया में उन्हें जीत नहीं मिली थी।

Tags :

NEXT STORY
Top