मेरी यात्रा से भारत-नेपाल के संबंध सामान्य होंगे-प्रचण्ड

नई दिल्ली (12 सितंबर): नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड ने कहा है कि वह इस सप्ताह होने वाली अपनी भारत यात्रा के दौरान किसी विवादित समझौते पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे। वह दोनों देशों के बीच विश्वास की मजबूत नींव रखेंगे। उनके पूर्ववर्ती शासन के दौरान मधेसी समुदाय के आंदोलन के चलते दोनों देशों के संबंधों में खटास आ गई थी।

चीन की ओर नरम रुख रखने वाले केपी शर्मा ओली के इस्तीफे के बाद चार अगस्त को दूसरी बार नेपाल के प्रधानमंत्री बने प्रचंड ने कहा कि वह 15 सितंबर से शुरू हो रही चार दिवसीय यात्रा को चुनौतीपूर्ण अवसर के रूप में ले रहे हैं। संसद की अंतरराष्ट्रीय संबंध और श्रम समिति से उन्होंनेकहा, मुझे विश्वास है कि यात्रा से संबंधों में हाल में आई खटास दूर होगी और संबंध सामान्य होंगे।