भारत ने किया इस मिसाइल का सीक्रेट टेस्ट, डरे चीन और पाक!

नई दिल्ली (13 अप्रैल): भारत ने पूर्व प्रेसिडेंट अब्दुल कलाम के नाम पर अपनी मोस्ट ऐम्बिशस न्यूक्लियर बैलिस्टिक मिसाइल K-4 का सफल टेस्ट किया। यह मिसाइल 3,500 किलोमीटर की रेंज तक मार कर सकती है।

इस लॉन्च के साथ ही भारत दुनिया के उन देशों के क्लब में शामिल हो गया है जो पानी के भीतर से मिसाइल दाग सकते हैं। ये मिसाइल अपने साथ 2000 किलोग्राम तक गोला-बारूद ले जा सकती है। इसके टेस्ट से भारत के न्यूक्लियर वेपन प्रोग्राम को और मजबूती मिली है। एक अंग्रेजी वेबसाइट ने इस मिसाइल के टेस्ट का दावा है। हालांकि इसके टेस्ट की जगह को सीक्रेट रखा गया है।

K-4 बैलेस्टिक मिसाइल को डीआरडीओ ने डेवलप किया है। इस मिसाइल को पानी के अंदर 20 फीट नीचे से भी फायर किया जा सकता है। 111 मीटर लंबी आईएनएस अरहिंत सबमरीन में एक बार में चार K-4 मिसाइल लोड की जा सकती हैं। डीआरडीओ अभी K सीरीज की तीन और मिसाइल डेवलप करने के प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है। K-4 के पहले भी दो टेस्ट हो चुके हैं। बताया जा रहा है कि K-4 अग्नि मिसाइल से बेहतर है।

इस टेस्ट के साथ ही भारत दुनिया के उन देशों में शामिल हो गया है जो पानी के भीतर से मिसाइल दाग सकते हैं। इससे पहले अमेरिका, रूस, फ्रांस और चीन ही इस क्लब में शामिल थे। इसके साथ ही भारत ने जमीन, हवा और पानी के भीतर से लंबी दूरी की न्यूक्लियर मिसाइल लॉन्चिंग की पावर डेवलप कर ली है।