BREAKING: पृथ्वी-2 का सफल परीक्षण, छूटे चीन-पाकिस्तान के पसीने

नई दिल्ली (2 जून): भारत ने एक बार फिर देश के दुश्मनों को अपनी ताकत दिखाते हुए स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल का परीक्षण किया। परमाणु क्षमता संपन्न और स्वदेशी पृथ्वी दो मिसाइन का ये परीक्षण ओडिशा के चांदीपुर रपरीक्षण रेंज से आज सुबह 10 बजकर 56 मिनट पर किया गया।

 

पृथ्वी दो से भारतीय सेना की ताकत में और वृद्धि हुई है। ये सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल है। इससे पहले इसी परीक्षण स्थल पर 12 अक्टूबर 2009 को दो परीक्षण किए गए थे और दोनों सफल रहे थे। इस मिसाइल की मारक क्षमता 350 किलोमीटर है।

 

उल्लेखनीय है कि पृथ्वी 2 मिसाइल 500 से एक हजार किलोग्राम तक के आयुध ले जाने में सक्षम है और इसमें लिक्विड प्रपल्शन ट्विन इंजन लगे हैं। पृथ्वी दो भारतीय सशस्त्र बल में वर्ष 2003 में शामिल की गई थी और इसकी लंबाई 9 मीटर है।

 

गौरतलब है कि पृथ्वी 2 पहली ऐसी मिसाइल है जिसे डीआरडीओ ने भारत के प्रतिष्ठित आईजीएमडीपी (इन्टग्रेटिड गाइडिड मिसाइल डिवलपमेंट प्रोग्राम) के तहत विकसित किया गया है। पृथ्वी 2 का पिछला उपयोगी परीक्षण 16 फरवरी 2016 को इसी रेंज से किया गया था।