'भारत से युद्ध नहीं रूस जैसा संबंध बनाना चाहता है चीन'

बीजिंग (16 नवंबर): एक तरफ चीन जहां सरहद से लेकर आतंकवाद समेत तमाम मुद्दों पर भारत के खिलाफ लगातार चालबाजी करता रहता है। वहीं चीन का कहना है कि वो भारत से नहीं करना चाहता है बल्कि वो भारत के साथ रूस जैसा संबंध बनाना चाहता है।

चीनी थिंक टैंक के एक अहम रणनीतिकार का कहना है कि भारत के साथ युद्ध की स्थिति तभी बनेगी जब और कोई विकल्प नहीं बचेगा। उन्होंने कहा कि चीन-रूस संबंध की तरह चीन, भारत के साथ भी अपने संबंध को 'रणनीतिक ऊंचाई' पर देखना चाहता है।

चीनी समकालिक अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संस्थान के उपाध्यक्ष युआन पेंग ने कहा कि डोकलाम जैसे मुद्दा दोबारा होने पर इसे जोरदार तरीके से निपटा जाएगा। युआन ने कहा कि बीजिंग अपनी संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता एवं मुख्य हितों के साथ कोई समझौता नहीं करेगा।