पाक को भारत की खरी चेतावनी- 'PoK से कब्जा छोड़ो'

नई दिल्ली (22 जुलाई): कश्मीर घाटी में जारी हिंसा को लेकर एक तरफ पाकिस्तान ने 'काला दिवस' मनाया। इसके अलावा पाकिस्तान के लगातार उकसावे वाले कदमों पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। भारत ने पाकिस्तान से दो-टूक शब्दों में कहा है कि वह भारत के किसी भी हिस्‍से में हिंसा और आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद करे। 

- रिपोर्ट के मुताबिक, भारत ने कहा- "हमारे अंदरूनी मामलों में दखल देने से खुद को दूर रखे। इसके अलावा पीओके पर अपना कब्जा छोड़े, क्योंकि वह भारत का हिस्सा है।" - भारत ने साथ ही कहा कि संयुक्त राष्ट्र की तरफ से चिन्हित आतंकवादियों की तरफ से हिंसा को पाकिस्तान बढ़ावा देता है।  - विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया, "जम्‍मू कश्‍मीर के मुद्दे पर पाकिस्‍तान और पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) में पिछले दो दिनों के दौरान हुई रैलियों, कार्यक्रमों और बयानबाजी संबंधी रिपोर्ट्स हमने देखी हैं।"  - भारत ने गौर किया कि इन कार्यक्रमों की अगुवाई संयुक्‍त राष्‍ट्र की तरफ से आतंकी करार दिए लोगों ने की थी। ये वही लोग थे, जिन्‍होंने पूर्व में खूंखार आतंकी ओसामा बिन लादेन और तालिबान नेता मुल्‍ला मंसूर की हत्‍या के विरोध में भी प्रदर्शन किया था।