भारत में पहली बार जल्द शुरू होगी LGBT रेडियो टैक्सी सर्विस

नई दिल्ली (21 जनवरी): भारत में पहली बार एलजीबीटी समुदाय के लिए रेडियो टैक्सी सर्विस की बुधवार को घोषणा की गई है। इस सर्विस का नाम 'विग्स रेनवो' रखा गया है। इस पहल को विंग्स ट्रैवल्स और हमसफर ट्रस्ट ने शुरू किया है। इन टैक्सियों का संचालन एलजीबीटी समुदाय के सदस्य साल 2017 से करेंगे। बुधवार को एलजीबीटी राइट्स के लिए काम करने वाली संस्था हमसफर ट्रस्ट के 5 वोलैंटीयर्स ने रेडियो कैब्स चलाने के लिए साइन किए।

'द हिंदू' की रिपोर्ट के मुताबिक, पायलट प्रोग्राम के तहत गे और ट्रांसजैंडर समुदाय के 5 सदस्य लर्नर्स के लाइसेंस के लिए अप्लाई करेंगे। फिर वे ऑल इंडिया ड्राइवर लाइसेंस के लिए ट्रेनिंग पूरी करेंगे। 

पर्मानेंट लाइसेंस पाने के लिए 9 से 12 महीने का समय लगता है। वे कस्टमर एटिकेट ट्रेनिंग भी हासिल करेंगे। विंग्स ट्रैवल्स एंड मैनेजमेंट (इंडिया) के फाउंडर डायरेक्टर अरुण खरात ने बताया, ''हम उन्हें सक्षम उद्यमी बनाना चाहते हैं। साथ ही चाहते हैं कि उनके पास अपना वाहन भी हो। हम चाहते हैं कि भारत में एलजीबीटी समुदाय भी पश्चिम की तरह ही जीवन के समान अधिकार और रोजी रोटी पा सकें।''