देश में 58 फीसदी पैसा सिर्फ 1 प्रतिशत लोगों के पास

नई दिल्ली (16 जनवरी): आम आदमी दो जून की रोटी के लिए दिन-रात मेहनत करता है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संस्था ऑक्सफैम ने एक रिपोर्ट जारी कर चौंकाने वाले आंकड़े पेश किए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, भारत की कुल 58 प्रतिशत संपत्ति पर देश के मात्र एक फीसदी अमीरों का कब्‍जा है जो देश में बढ़ती आय असामनता की ओर संकेत करता है।

इसी के साथ दुनिया में शीर्ष एक प्रतिशत अमीरों के पास औसतन 50 प्रतिशत संपत्ति है। भारत के 57 अरबपतियों के पास 216 अरब डॉलर (करीब 14.72 लाख करोड़ रुपए) की संपत्ति है जो देश के आर्थिक पायदान पर नीचे की 70 प्रतिशत आबादी की कुल संपत्ति के बराबर है।

- वर्ल्ड इकोनॉमी फोरम (WEF) की सालाना बैठक से पहले जारी की गयी इस रिपोर्ट के अनुसार कुल आठ लोगों को पास दुनिया की आधी आबादी के बराबर दौलत है।

- रिपोर्ट के अनुसार, भारत के 84 शीर्ष अमीरों के पास 248 अरब डॉलर (16.90 लाख करोड़ रुपए) की संपत्ति है।

- रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी 19.3 अरब डॉलर के साथ भारत के सबसे अमीर आदमी हैं।

- दिलीप सांघवी (16.7 अरब डॉलर) और अजीम प्रेमजी (15 अरब डॉलर) दौलत के मामले में दूसरे और तीसरे नंबर पर रहे।

- रिपोर्ट के अनुसार भारत की कुल दौलत 31 खरब डॉलर है।

विश्‍व में 75 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ बिल गेट्स टॉप पर

- इस वर्ष विश्व की कुल संपत्ति 2.56 लाख अरब डॉलर आंकी गई है और इसमें से करीब 6500 अरब डॉलर संपत्ति पर अरबपतियों का आधिपत्य है।

- इसमें 75 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ बिल गेट्स शीर्ष पर हैं।

- इसके बाद 67 अरब डॉलर की संपत्ति वाले एमैनसियो ऑर्टेगा और 60.8 अरब डॉलर की संपत्ति वाले वारेन बफेट का नाम है।

- ऑक्सफैम ने 99 प्रतिशत लोगों के लिए एक अर्थव्यवस्था शीर्षक से एक रिपोर्ट में यह सारे आंकड़े पेश किए हैं।