यूएस ने भारत पर जताया भरोसा, बोला- पाक फोड़ सकता है परमाणु बम, उस पर भरोसा नहीं

नई दिल्ली (29 सितंबर): पीएम मोदी का उरी में सेना के कैंप पर हुए आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान को

अलग-थलग करने का प्लान काम करता दिख रहा है। भारत के समर्थन में उतरे अमेरिका ने भी पाकिस्तान को

घेरते हुए उसके इतिहास को तनावपूर्ण करार दिया।

अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने कहा कि भारत ने परमाणु प्रौद्योगिकी संबंधी अपनी जिम्मेदारी ठीक से निभाई

है, जबकि इसके पड़ोसी देश पाकिस्तान का परमाणु हथियारों का इतिहास तनावपूर्ण रहा है। उन्होंने कहा कि

वाशिंगटन स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए इस्लामाबाद के साथ काम कर रहा है। कार्टर उत्तरी डकोटा में मिनोट

एयरफोर्स बेस में ‘परमाणु प्रतिरोध को कायम रखने’ पर अपनी टिप्पणी में कहा, ‘पिछले 25 वर्षों में परमाणु

हथियारों का परिदृश्य बदल गया है।

एश्टन कार्टर ने कहा कि पाकिस्तानी परमाणु हथियारों का इतिहास तनावों से भरा रहा है। हालांकि, वे अमेरिका के

लिए सीधा खतरा नहीं हैं, फिर भी हम स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए पाकिस्तान के साथ काम करते हैं। उन्होंने

कहा कि अमेरिका ने अपने परमाणु अस्त्रों को बढ़ाने के लिए ज्यादा कुछ नहीं किया है, जबकि अन्य देशों ने अपने

परमाणु हथियारों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ इसके वितरण को भी तरजीह दी है।