भारत नें अमरिकी सैनिकों के अवशेष लौटाये

नई दिल्ली (13 अप्रैल): भारत ने दूसरे विश्व युद्ध के दौरान अरुणाचल प्रदेश में दुर्घनाग्रस्त हुए यूएस एयरफोर्स के बी-24 बॉम्बर और सैनिकों के अवशेषों को अमेरिका को सौंप दिया है। यूपीए सरकार के दौरान भी अमेरिका ने भारत के सामने यह मांग रखी थी, लेकिन उस दौरान चीन ने इसका यह कहते हुए विरोध किया था कि अरुणाचल प्रदेश में यह अवशेष हैं और वह उसका हिस्सा है।

इस वापसी प्रोग्राम की खुद अमरीकी डिफेंस सेक्रेटरी एश्टन कार्टन निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने इस कार्य के लिए रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और भारत सरकार का शुक्रिया अदा किया है। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा जब भारत यात्रा पर आए थे, तब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष यह मुद्दा उठाया था। इसके बाद मोदी सरकार ने अमेरिका को ये अवशेष ले जाने की इजाजत दी थी।

अमेरिकी डिफेंस डिपार्टमेंट के अनुसार, दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान 500 से ज्यादा प्लेन चीन-भारत-बर्मा इलाके में लापता हुए थे। इसमें बी-24 बॉम्बर भी शामिल था। इसे हॉट एज हैल कहा जाता है। यह जनवरी 1944 में आठ क्रू मेंबर्स के साथ लापता हो गया था। इसके बाद खबर आई कि विमान अरुणाचल में क्षतिग्रस्त हो गया।