'17 हज़ार पाकिस्तानी आना चाहते हैं भारत'

नई दिल्ली (18 मार्च): भारत और पाकिस्तान के बीच टी-20 मैच को देखने के लिए अब तक पाकिस्तान से 17 हज़ार से ज्यादा आवेदन मिल चुके हैं। इनमें से छह सौ को वीजा दिया भी जा चुका है। सरकारी सूत्रों ने बताया कि सरकार पाकिस्तानी प्रशंसको को वीजा देने में बेहद सख्त दिशा-निर्देशों का पालन कर रही है। जिन आवेदकों ने सभी औपचारिकताएँ पूरी कर दी हैं, उन्हीं को वीजा दिया जा रहा है।

2008 में हुए मुंबई आतंकी हमलों की जांच में यह बात सामने आई थी कि पाकिस्तानी आतंकियों और इंटर-सर्विसेज इंटेलीजेंस ने भारत के खिलाफ आतंकी हमलों की साजिश के लिए जारी किए गए वीजा का गलत इस्तेमाल किया। इस बात का खुलासा 26/11 के हैंडलर सैय्यद जबीउद्दीन अंसारी उर्फ अबू जुंदाल से हुई पूछताछ के दौरान हुआ। उसने बताया कि साजिद मीर और मेजर अब्दुर्रहमान ने 2005 में हुई भारत-पाकिस्तान क्रिकेट सीरीज देखने के लिए वीजा मिलने के बाद भारत का दौरा किया। भारत ने इस बार दिल्ली, मुंबई, चेन्नै और अटारी के अलावा कोलकाता भी एंट्री और एग्जिट पोर्ट के रूप में शामिल किया है।