पाकिस्तान के 'दुस्साहस' से निपटने के लिए तैयार है भारत: बीएसएफ

नई दिल्ली ( 6 मई ): सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक के. के. शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि भारत, पाकिस्तानी सैनिकों या आतंकवादियों के किसी भी दुस्साहस से निपटने के लिए तैयार है। बीएसएफ (मेघालय फ्रंटियर) के मुख्यालय पर एक समारोह से इतर शर्मा ने कहा, "वे (पाकिस्तान) घुसपैठ और आतंकवादियों को भेजना जारी रखे हुए हैं। हम (बीएसएफ) उनसे संघर्ष जारी रखेंगे और आप देख सकते हैं कि अब तक हमने उनके सभी नापाक प्रयासों का सफलतापूर्वक मुकाबला किया है।"


उन्होंने कहा, "मैं आपको भरोसा देता हूं कि भारतीय सुरक्षा बल किसी भी तरह की घटना के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। हम दूसरी तरफ के किसी भी तरह के दुस्साहस का माकूल जवाब देंगे।" बीएसएफ प्रमुख ने जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर नायब सूबेदार परमजीत सिंह और बीएसएफ हेड कांस्टेबल प्रेम सागर के शवों को क्षत-विक्षत करने करने की कार्रवाई को 'बेहद दुर्भाग्यपूर्ण' बताया।


शर्मा ने कहा, "यह कृत्य सैन्य गरिमा के विपरीत है क्योंकि उन्होंने नायब सूबेदार और बीएसएफ हेड कांस्टेबल प्रेम सागर के शवों को क्षत-विक्षत किया और उनके सिर काटे। यह निंदनीय है। मेरी इच्छा है कि इस तरह की घटना फिर कभी न हो।" उन्होंने कहा कि दोनों जवान एक संचार केबल की मरम्मत कर रहे थे और वे अपने फारवर्ड डिफेंस लोकेशन से मुश्किल से 100 गज की दूरी पर थे। इसी समय उन पर हमला किया गया।