भारत में 1 फीसदी आबादी का 22 फीसदी आमदनी पर कब्जा- रिपोर्ट

नई दिल्ली (6 सितंबर): भारत तेजी से विकास कर रहा है लेकिन हिंदुस्तान में आय की असमानता पर एक चौकाने वाला रिसर्च सामने आया है। रिर्सच के मुताबिक भारत अंग्रेजी राज से निकलकर अरबपतियों के राज में पहुंच गया है। भारत की महज एक फीसदी आबादी की आमदनी देश की कुल 22 फीसदी आबादी की आय के बराबर है। 

दरअसल ये रिसर्च दो फ्रांसीसी अर्थशास्त्रियों थोमा पिकेती और लुका सॉंसेल ने जारी किया है। रिसर्च के मुताबिक भारत में साल 1922 के बाद से असमानता की खाई सबसे ज्यादा गहरी हुई है। उसी साल देश में पहली बार आय कर कानून की कल्पना की गई थी। 

'भारतीय आय असमानता, 1922-2014: अंग्रेजी राज से अरबपति राज ?' नाम से जारी इस रिसर्च पेपर में कहा गया है कि 1930 के दशक के आखिर में टॉप एक फीसदी आबादी के पास कुल आमदनी का 21 फीसदी से कम हिस्से पर कब्जा था जो 1980 में घटकर 6 प्रतिशत रह गया, लेकिन आज फिर से 22 फीसदी पर पहुंच गया है।