सार्क में 'बेइज्जत' पाकिस्तान भारत के खिलाफ बना रहा नया प्लान

नई दिल्ली(12 अक्टूबर): दुनिया में अलग-थलग करने की भारत की स्ट्रैटजी का जवाब देने के लिए पाकिस्तान नए रास्ते तलाश रहा है। उरी हमले के बाद भारत समेत 5 देशों ने इस्लामाबाद में होने वाली सार्क समिट का बायकॉट कर दिया था। इसके बाद पाकिस्तान अब भारत के दबदबे वाले 8 देशों के साउथ एशियन एसोसिएशन फॉर रीजनल कोऑपरेशन (सार्क) के मुकाबले चीन के साथ साउथ एशियन इकोनॉमिक अलायंस बनाना चाहता है। इसके लिए पाकिस्तान ने खाका बनाना शुरू कर दिया है।

- पाकिस्तान के अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, साउथ एशियन रीजन में इस नए फ्रंट को खड़ा करने की तैयारियों का खुलासा न्यूयॉर्क में मौजूद पाकिस्तान के पार्लियामेंट्री डेलिगेशन ने किया।

- पाकिस्तानी सांसद मुशाहिद हुसैन सैयद ने कहा- “दुनिया में साउथ एशिया उभर रहा है। इसमें चीन, ईरान और आसपास के पडोसी देश शामिल हैं। ऐसे में सभी देशों को साथ लाया जा सकता है।"

- पाक के एक अन्य डिप्लोमैट ने बताया, 'ये प्लानिंग पाक को दुनिया से अलग-थलग करने की भारत की स्ट्रैटजी को काउंटर करने के लिए है। इससे नवाज सरकार को काफी मदद मिलने की उम्मीद है। '

- हुसैन ने बताया- "चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर साउथ एशिया को सेंट्रल एशिया के साथ जोड़ने का अहम रूट है। ग्वादर पोर्ट इसमें अहम रोल निभा सकता है। हम चाहते हैं कि भारत भी इसे ज्वाइन करे।'' 

- भारत के एक अफसर ने इस ऑफर को नामंजूर कर दिया। वे सार्क से मिलने वाले फायदे के साथ रहना चाहते हैं।