भारत की पाक को दो टूक, नहीं माने तो कर देंगे बर्बाद

नई दिल्ली (30 अक्टूबर): लगातार आतंकियों को मदद करने में शामिल पाकिस्तान को भारत के के डीजीएमओ (डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलटरी ऑपरेशन्स) ने दो टूक जवाब दिया है। भारत ने यह बातचीत पाकिस्तान के लगातार अनुरोध करने पर की है। सोमवार को दिन में 2 बजे हुई बातचीत में पाकिस्तान के डीजीएमओ ने आरोप लगाया कि भारतीय सुरक्षा बलों ने लाइन ऑफ कंट्रोल पर बिना किसी उकसावे के फायरिंग की। भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने पाकिस्तान के डीजीएमओ से जोर देकर कहा कि हथियारबंद आतंकवादियों को पाकिस्तानी आर्मी के समर्थन के जवाब में भारतीय सैनिकों ने फायरिंग की थी। भारत के डीजीएमओ ने दो टूक शब्दों में कहा कि ये आतंकवादी सीमा पार कर घुसपैठ करना चाहते थे और भारतीय सेना की चौकियों को निशाना बनाना चाहते थे। उनके पास हैवी कैलिबर के हथियार थे। उन्होंने साफ कहा कि पाकिस्तानी सेना का आतंकवाद को समर्थन भारत को बर्दाश्त नहीं है। अगर आतंकवादियों को लाइन ऑफ कंट्रोल पार करते समय पाकिस्तानी सेना ने समर्थन देती रही तो उसका नुकसान उठाना पड़ेगा। भारतीय सेना भविष्य में भी जवाबी कदम उठाते रहेगी। भारतीय डीजीएमओ ने यह भी कहा कि भारतीय सेना हमेशा पेशेवर मानकों का पालन करती है और कभी भी सिविलियंस को टारगेट नहीं करती। भट्ट ने यह भी कहा कि भारतीय सेना फायरिंग की शुरुआत नहीं करती, वह तो सिर्फ जवाब देती है।