चाइना-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर पर भारत का विरोध

नई दिल्ली(16 मार्च): 'वन बेल्ट-वन रोड' योजना चीन की कम्युनिस्ट पार्टी सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक है।

- बलूचिस्तान स्थित ग्वादर बंदरगाह को चीन के शिनजांग प्रांत से जोड़ने वाली चाइना-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर (CPEC) इसी योजना का एक अहम हिस्सा है।

- 30 खरब रुपयों से ज्यादा लागत से तैयार हो रही इस CPEC परियोजना पर भारत ने सख्त आपत्ति जताई है। साथ ही साथ, भारत ने पाकिस्तान पर उसकी जमीन से सीमा-पार प्रायोजित किए जाने वाले आतंकवाद पर ठोस कार्रवाई ना करने के लिए इस्लामाबाद को भी आड़े हाथों लिया।

- बुधवार को केंद्रीय रक्षा मंत्रालय ने संसद में पेश की गई अपनी सालाना रिपोर्ट में कहा, 'PoK से होकर गुजरने वाली CPEC परियोजना भारत की संप्रभुता के लिए एक चुनौती है।'