"आईएस के खतरे से भारत नहीं है महफूज"

अबूधाबी (9 फरवरी): संयुक्त अरब अमीरात के विदेश राज्यमंत्री अनवर गरगाश ने कहा है कि भारत आतंकी संगठन आईएस के खतरे से महफूज नहीं है। उन्होंने यह बयान ऐसे समय दिया है जबकि यूएई के शहजादे शेख मोहमद बिन जायेद अल नहयान तीन दिवसीय यात्रा पर बुधवार को भारत आ रहे हैं।

यूएई खुद इस आतंकी संगठन के खिलाफ लड़ाई में शामिल है। गरगाश ने कहा कि यह लंबी अवधि का खतरा है। इसके खिलाफ हमें आपसी सहयोग कायम करने और शून्य सहिष्णुता अपनाने की जरूरत है। हमें इस खतरे से निपटने की जरूरत है और कोई भी अछूता नहीं है। अगर भारत सोचता है कि वह बचा हुआ है तो वह लापरवाही करने जा रहा है। हर कोई आईएस के खतरे का सामना कर रहा है चाहे वह भारत हो या यूएई।

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही यूएई ने आईएस से संदिग्ध संपर्क रखने के आरोप में 12 भारतीयों को स्वदेश भेजा है। गरगाश ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि आतंकवाद के खिलाफ द्विपक्षीय संबंध को मजबूत करना शाही यात्रा का एक अहम विषय होगा। उन्होंने कहा कि आईएस के खतरे का मुकाबला करने के लिए आतंकवाद के खिलाफ कहीं अधिक सहयोग की जरूरत है। आतंकी संगठनों के बीच कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए। कोई अच्छा या बुरा आतंकवादी नहीं है।