भारत-न्यूजीलैंड चौथा वनडे आज, सीरीज जीतने के इरादे से उतरेंगे धोनी

नई दिल्ली(26 अक्टूबर): पिछले मैच में शानदार बल्लेबाजी करके फार्म में लौटने वाले महेंद्र सिंह धोनी इस लय को बरकरार रखते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने घरेलू मैदान पर बुधवार को होने वाले चौथे वनडे क्रिकेट मैच के जरिये सीरीज जीतने के इरादे से उतरेंगे। बल्लेबाज, विकेटकीपर और कैप्टन कूल धोनी मोहाली में पिछले वनडे में बल्लेबाजी क्रम में चौथे स्थान पर उतरे। विराट कोहली के साथ उनकी शतकीय साझेदारी ने भारत को सात विकेट से जीत और सीरीज में 2-1 से बढ़त दिलाई।

धोनी ने 91 गेंद में 80 रन बनाये और इसके साथ ही वनडे क्रिकेट में 9000 रन पूरे कर लिये। वह 50 या अधिक की औसत से यह रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने। वनडे क्रिकेट टीम के कप्तान और रांची के लाड़ले धोनी शायद आखिरी बार अपने घरेलू मैदान पर खेलते नजर आयेंगे जहां भारत ने तीन वनडे और एक टी20 में से सभी जीते हैं जबकि एक मैच बारिश की भेंट हो गया। उपकप्तान कोहली ने यहां दो वनडे पारियों में नाबाद 77 और नाबाद 139 रन बनाये हैं और वह भी इस लय को कायम रखना चाहेंगे। मोहाली में पारी की शुरुआत में जीवनदान मिलने के बाद कोहली ने 134 गेंद में नाबाद 154 रन बनाये। यह कोहली का 26वां शतक था और इनमें से 22 बार भारत विजयी रहा है। 

धोनी के साथ तीसरे विकेट के लिये 151 रन की साझेदारी में कोहली जबर्दस्त फार्म में नजर आये। दूसरी ओर धोनी ने भी पुराने तेवर दिखाये जिसे देखते हुए यह कहना जल्दबाजी होगा कि उनका सर्वश्रेष्ठ दौर बीत चुका है। अब धोनी उसी मैदान पर लौटेंगे जहां से उन्होंने शुरुआत की थी और उनके लिये यह काफी जज्बाती मैच होगा। आईसीसी की हर ट्रॉफी जीत चुके धोनी इसे यादगार बनाना चाहेंगे। धोनी का फॉर्म में लौटना न्यूजीलैंड टीम के लिये खतरनाक संकेत है जो टेस्ट सीरीज में 0-3 से सफाये के बाद वनडे में लाज बचाने की कोशिश में हैं।

दूसरी ओर न्यूजीलैंड के लिये सीरीज में बने रहने के मकसद से यह करो या मरो का मुकाबला है जिसके लिये उसके बल्लेबाजों को एक ईकाई के रूप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। टाम लाथम और कप्तान केन विलियमसन को छोड़कर कोई भी कीवी बल्लेबाज रन नहीं बना सका। मोहाली में पिछले वनडे में निचले क्रम पर जिम्मी नीशाम (57) और मैट हेनरी (नाबाद 39) ने नौवे विकेट के लिये 84 रन की रिकॉर्ड साझेदारी करके स्कोर 285 रन तक पहुंचाया था।