भारत की 'अरिदमान' बताएगी चीन की औकात

नई दिल्ली(26 अगस्त): भारत की दूसरी परमाणु हथियारबंद पनडुब्बी 'अरिदमान' लॉन्च के लिए पूरी तरह से तैयार है। विशाखापट्टनम के गुप्त जहाज भवन केंद्र में बनकर तैयार हुई, इस परमाणु हथियारबंद पनडुब्बी को अगले छह से आठ सप्ताह में शुरू किया जा सकता है।

- यह पनडुब्बी उस वक्त बनकर तैयार हुई है जब डोकलाम में भारत और चीन की बीच तनातनी चल रही है। 

- हाल ही में चीन ने इस विवाद के बीच अपने हथियारों का प्रदर्शन किया था। अब भारत ने भी चीनी सेना को जवाब देने के लिए 'अरिदमान' तैयार कर लिया है।
 
- अरिदमान पनडुब्बी, भारत के पहले परमाणु सब आईएनएस अरिहंत की तुलना में ज्यादा शक्तिशाली और बेहतर तरीके से तैयार की गई है। इसे फिलहाल जमीन पर लाया जा चुका है और जल्द ही पानी मे लॉन्च किया जाएगा।

- अरिदमान ना सिर्फ विशाल और सुसज्जित है बल्कि अरिहंत के 83MW की क्षमता से भी ज्यादा ताकतवर है। जब 2009 में अरिहंत पनडुब्बी बनकर तैयार हुई, तभी अरिदमान को निर्माण शुरू हो गया था। जहां अरिहंत को लॉन्च करने में 11 साल लगे, वहीं अरिदमान को 8 साल में बनकर तैयार हो गई।