ISI ने बिछाया था हनीट्रैप, पाक महिला का किया इस्तेमाल

नई दिल्ली  (13  अक्टूबर ) :  एटीएस ने गुजरात के कच्छ से पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। अब इस गिरफ्तारी के मामले में एक बड़ा खुलासा सामने आया है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने इन्हें फांसने के लिए हनीट्रैप बिछाया था। दोनों को एक पाकिस्तानी महिला के जरिए हनीट्रैप में फंसाया गया। फिर उनसे पाकिस्तान के लिए जासूसी कराई जाने लगी।

दोनों कथित जासूसों को पड़ोसी देश की सीमा से सटे कच्छ जिले से गिरफ्तार किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एटीएस को कच्छ के खावड़ा गांव के दो निवासियों पर पाकिस्तान के आईएसआई के जासूस के तौर पर काम करने का संदेह था और उन पर पिछले एक वर्ष से करीबी निगाह रखी जा रही थी।

उनके घरों की तलाशी के दौरान एटीएस ने उनके पास से एक पाकिस्तानी सिम कार्ड और एक मोबाइल फोन बरामद किया है। भारत और पाकिस्तान के मध्य बढ़ते तनाव के बीच यह गिरफ्तारी हुई है।

पाकिस्तान द्वारा भारत में हनीट्रैप बिछा जासूसी कराने का यह कोई पहला मामला नहीं है। पहले भी पाकिस्तान ऐसा करता आया है। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट भारतीयों को हनीट्रैप में फंसाकर सीक्रिट सूचनाएं हासिल करने की कोशिश करते रहे हैं।