भारत-जर्मनी के बीच हुए 8 बड़े करार, मोदी बोले- हम एक दूसरे के लिए बने

नई दिल्ली (30 मई): चार देशों के दौरे पर रवाना हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय जर्मनी में हैं। यहां पर दोनों देशों के बीच 8 बड़े करार हुए। इस मौके पर जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल ने भारत को विश्वसनीय साथी बताया।


ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया के सामने आतंकवाद समेत कई चैलेंज हैं। इसका हमें मिलकर मुकाबला करना है। जर्मनी में मेरे स्वागत के लिए तहे दिल से शुक्रिया। उन्होंने कहा, ''हम एक दूसरे के लिए बने हैं। जर्मनी स्टार्टअप, गंगा सफाई और स्किल डेवलपमेंट में भारत की मदद रहा है। दुनिया इनोवेशन के बिना आगे नहीं बढ़ सकती। हम मेक इन इंडिया के लिए जर्मनी का स्वागत करते हैं।''


क्या है एजेंडा?

भारत में जर्मनी की 1600 कंपनियां हैं। इनमें 600 ज्वाइंट वेंचर हैं। वहीं जर्मनी भारत में सातवां सबसे बड़ा इन्वेस्टर है। अप्रैल 2000 से मार्च 2017 तक 9.69 अरब डॉलर का इन्वेस्टमेंट हो चुका है। 2016 में 19.48 अरब डॉलर का कारोबार हुआ।