भारत ने पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का किया सफल परीक्षण, वीडियो देख परेशान हुआ पाकिस्तान

Portable Anti Tank Guided Missile

मनीष कुमार, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 सितंबर): रक्षा के क्षेत्र में भारत ने एक और बड़ा कदम आगे बढ़ाया है। भारत ने पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का किया सफल परीक्षण किया। इस मिसाइल के परीक्षण का वीडियो देख पाक सेना और उसके आतंकियों के होश उड़ गए हैं। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन यानी DRDO ने  आज आंध्र प्रदेश के कुन्नूर में इसका सफल परीक्षण किया। यह मिसाइल प्रणाली का तीसरा सफल परीक्षण है जिसे भारतीय सेना की तीसरी पीढ़ी के एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल की जरूरत के लिए विकसित किया गया है। मिसाइल को एक ट्राइपॉड से फायर किया गया और इसके निशाने पर एक टैंक था। मिसाइल ने टॉप अटैक मोड में लक्ष्य को निशाना बनाया और पूरी तरह से नष्ट कर दिया।

मनुष्य द्वारा ढोई जा सकने वाले ये एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल ने परीक्षण के दौरान टारगेट पर सटीक निशाना लगाया। यह मिसाइल सिस्टम का तीसरा सफल परीक्षण है जिसे भारतीय सेना के लिए तीसरी पीढ़ी की एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल की जरूरत के लिए विकसित किया जा रहा है।इसको रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन   ने विकसित किया है। मैन  पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेंड मिसाइल (MPATGM) का वजह बेहद कम है। इस मिसाइल को मैन पोर्टेबल ट्राइपॉड लॉन्चर से लॉन्च किया गया था। इसने अपने लक्ष्य को बेहद सटीकता और आक्रामकता के साथ भेद दिया। यह पूरी तरह से स्वदेशी तकनीक पर आधारित है इस मिसाइल का निर्माण  DRDO ने किया है। इस मिसाइल का इसका वजन कम है, और इससे किसी भी लक्ष्य को आसानी से भेदा जा सकता है। 

डीआरडीओ के मुताबिक इस मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का निशाना अचूक है और दुश्मन के टैंक का पीछा करते हुए उसे तबाह कर देती है। ये मिसाइल वजन में इतना हल्का है कि इसे कहीं भी आसानी से ले जाया जा सकता है। इसकी खासियत है कि यह दिन और रात दोनों समय में दुश्मन को तबाह करने का माद्दा रखता है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने थर्ड जेनेरेशन मैन पोर्टेबल एन्टी टैंक मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए डीआरडीओ को बधाई दी है वहीं इस सफल परीक्षण के साथ ही आर्मी के लिए थर्ड जेनेरेशन मैन पोर्टेबल एन्टी टैंक मिसाइल से खुद को लैस करने का मौका मिल गया है जिसकी उसे लंबे समय से दरकार थी।