टीम इंडिया की हार के लिए ये भारतीय जिम्मेदार

नई दिल्ली(26 फरवरी): पुणे में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हारनी वाली भारतीय टीम को 5 साल अपनी धरती पर हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम की इस हार के लिए अगर कहें अपने जिम्मेदार हैं तो गलत नहीं होगा।

- दुनिया की नंबर वन टीम को उसके घर में हराने के लिए ऑस्ट्रेलिया ने दो भारतीयों का साथ ही लिया।

- ऑस्ट्रेलिया को पता था कि भारत दौरे पर उसे स्पिन पिच ही मिलनी है। यही कारण है कि पुणे के क्यूरेटर के पिच में बाउंस होने की बात कहने के बावजूद ऑस्ट्रेलियाई इस बात को मानने को तैयार नहीं थे।

- कंगारुओं ने इस बार स्पिन के लिए बेहतरीन तैयारी की थी और इसमें उनका साथ दिया पूर्व भारतीय स्पिनर श्रीधरन श्रीराम और भारतीय मूल के इंग्लिश स्पिनर मोंटी पनेसर।

- भारत को आखिरी बार उसके घर में जब इंग्लैंड ने टेस्ट सीरीज में हराया था तो उसमें पनेसर ने ही ग्रीम स्वान के साथ मिलकर भारतीय बल्लेबाजों को दिन में तारे दिखाए थे। इसी को देखते हुए ऑस्ट्रेलिया ने भारत दौरे से पहले श्रीराम और मोंटी की सेवाएं लीं।

- भारत की तरफ से आठ वनडे खेलने वाले 40 वर्षीय श्रीराम 29 जनवरी को स्पिन कंसल्टेंट के तौर पर दुबई पहुंच गए थे, जहां ऑस्ट्रेलियाई टीम के कुछ सदस्य तैयारी कर रहे थे। उन्होंने भारत दौरे पर आने से पहले ही उन्हें अश्विन और जडेजा से निपटने के टिप्स बता दिए।

- इससे पहले श्रीलंका दौरे के समय भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने श्रीराम की सेवाएं ली थीं। इस टेस्ट से पहले अभ्यास सत्र में भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को एक भारतीय गेंदबाज स्पिन का अभ्यास करा रहा था, जिसका एक्शन बिलकुल अश्विन की तरह था। दौरे से पहले पनेसर ने ब्रिसबेन स्थित सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में स्टीव ओकीफी को भारतीय पिचों पर गेंदबाजी करने के गुण सिखाए थे।