भारत में बिक्री घटने से तिलमिलाया चीन, दे डाला यह नसीहत

नई दिल्ली (28 अक्टूबर): आतंकी पाकिस्तान को साथ देने को लेकर चीन के खिलाफ भारत के लोगों में खासा नाराजगी है और लोग चीनी सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं। त्यौहार के इस मौसम में चीनी सामानों की बिक्री में भारी कमी आई है। और अगर ऐसे ही हालत बने रहे तो आने वाले दिनों में चीनी सामानों की मांग और कमी आने की संभावना है। भारतीयों के इस रूस के चीन परेशान हो गया है। चीनी प्रवक्ता के मुताबिक अगर उसके सामानों का इसी तरह बायकॉट होता रहा और चीन विरोधी माहौल बना रहा तो भारत में निवेशक आने से कतराएंगे और आखिरकार इसका खामयाजा हिंदुस्तान को ही भुगतना पड़ेगा। चीन का कहना है कि ऐसे बहिस्कारों से उसका कुछ भी नहीं बिगड़ने वाला नहीं है क्यों कि भारत चीन के निर्यात का सिर्फ 2 फीसदी ही मंगवाता है।

चीन ने साल 2015 में 2266.5 बिलियन डॉलर का सामान निर्यात किया था, जिसमें भारत और चीन के बीच मात्र 71.6 बिलियन डॉलर का व्यापार हुआ था। गौरतलब है कि पिछले 15 साल में भारत और चीन के बीच व्यापार में 24 गुना से ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। 2000 में भारत और चीन के बीच महज 2.9 बिलियन डॉलर का व्यापार हुआ था जो 2015 में बढ़कर 71.6 बिलियन डॉलर हो गया है।