'सिक्किम विवाद चीन की 'हथियाने' की नीति का हिस्सा'


नई दिल्ली(12 जुलाई): सिक्किम सीमा पर भारत और चीन के बीच तनातनी पर अमेरिका के एक शीर्ष एक्सपर्ट ने इसे पेइचिंग की 'धूर्तता' बताया है। एक्सपर्ट के अनुसार चीन इस तरह के विवाद के जरिए सीमा पर यथास्थिति को धीरे-धीरे बदलने की कोशिश कर रहा है।


- बराक ओबामा के राष्ट्रपति काल के दौरान विदेश विभाग में कार्यरत पूर्व वरिष्ठ अधिकारी रहीं अलेसा ऐर्ज ने कहा, 'मैं सीमा पर जारी इस विवाद से चिंतित हूं। भारत में भी इसपर स्वभाविक चिंता होगी।' गौरतलब है कि डोकलाम में चीन और भारतीय सेना में हुई तनातनी के बाद दोनों देशों के रिश्तों में तल्खी आ गई है।


- फिलहाल काउंसिल ऑन फॉरन रिलेशन्स में भारत, पाकिस्तान और दक्षिण एशिया मामलों की सीनियर फेलो ऐर्ज ने कहा कि चीन इस तरह की नीति विवादास्पद दक्षिण चीन सागर में भी अपनाता रहा है। उन्होंने कहा कि यह चीन का सीमा पर इंच-दर-इंच आगे बढ़ने का एक और नया तरीका है। दक्षिण चीन सागर में भी पर्यवेक्षकों ने चीन की 'हथियाने' की इस नीति पर ध्यान दिया था।


- उन्होंने कहा, 'क्या यही नीति चीन भारत की सीमा के साथ भी कर रहा है? इससे इनकार नहीं किया जा सकता है।' बता दें कि चीन पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है। हालांकि ताइवान, फिलीपीन्स, ब्रुनेई, मलयेशिया और वियतनाम समेत कई दक्षिणी एशियाई देश भी इस सागर पर अपना दावा करते रहे हैं।