आतंक के खिलाफ एकजुट हुए भारत-रूस और चीन, बेचैन हुआ पाकिस्तान

नई दिल्ली (2 दिसंबर): भारत, चीन और रूस ने एशिया-प्रशांत विषयों पर आज पहले दौर की बातचीत की जिसमें आतंकवाद, क्षेत्रीय सुरक्षा ढांचा, क्षेत्रीय एवं बहुपक्षीय मंचों पर समन्वय एवं अन्य क्षेत्रीय मुद्दे शामिल थे। यहां भारतीय दूतावास ने बयान जारी कर बताया कि इस वार्ता में चीन, रूस और भारत के विदेश मंत्रालयों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। आतंक पर तीनों देशों के एकजुट होने से पाकिस्तान बेचैन हो रहा है। पाकिस्तान को भारत और चीन की निकटता से दुख होता है। 

बयान के अनुसार तीनों पक्षों ने एशिया प्रशांत क्षेत्र की स्थिति, एशिया के प्रति विदेश नीति, क्षेत्रीय सुरक्षा ढांचा, क्षेत्रीय एवं बहुपक्षीय मंचों पर समन्वय, आतंकवाद के विरूद्ध संघर्ष और अन्य महत्वपूर्ण एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर गहराई से विचार विमर्श किया।
तीनों पक्षों में इस बात पर सहमति थी कि इस क्षेत्र में बतौर महत्वपूर्ण देश चीन, रूस और भारत के काफी साझा हित हैं और क्षेत्रीय एजेंडे के महत्वूपर्ण पहलुओं पर विचार एक दूसरे से काफी मिलते हैं।