'पुराने पन्नों को बंद कर रिश्तों के नए अध्याय की शुरुआत करे भारत और चीन'

नई दिल्ली (30 सितंबर): पुराने पन्नों को बंद कर भारत और चीन को रिश्तों के नए अध्याय की शुरुआत करनी चाहिए। ये कहना है भारत में चीनी राजदूत लुओ झाओहुई का। लो झाहुई का ये बयान उस वक्त आया है जब डोकलाम और आतंकवाद पर ड्रैगन के पाकिस्तान को समर्थन से चीन और भारत के बीच तनाव है।

लो झाहुई ने पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की स्थापना की 68वीं सालगिरह पर आयोजित कार्यक्रम कहा कि कि भारत और चीन को पुराने पृष्ठ को बंद करके रिश्तों में नए अध्याय की शुरुआत करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें पुराने पेज को बंद कर देना चाहिए और नए अध्याय की शुरुआत करनी चाहिए। हमें एक साथ नाचना चाहिए। हमें एक और एक मिलकर ग्यारह बन जाना चाहिए। 

साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंध को बेहतर बनाने की दिशा में अच्छी प्रगति हुई है। ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी और दोनों नेताओं ने सहयोग और सुलह का स्पष्ट संदेश दिया।