"भारत-चीन 1 और 1 मिलकर बने 11"

नई दिल्ली (30 सितंबर): डोकलाम विवाद सुलझने के बाद भारत और चीन के रिश्तों में आई कड़वाहट कम हो रही है। पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना की 68वीं सालगिरह के अवसर पर भारत में चीन के राजनयिक ने दोनों देशो में नए संबंधों की बात कही।

लो झाहुई ने कहा कि भारत और चीन को पुराने पृष्ठों को बंद कर नए रिश्तों का आरंभ करना चाहिए। झागुई ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि हमें पुराने पृष्ठों को बंद कर नए अध्याय की शुरुआत करनी चाहिए। हमें एक साथ नाचना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें एक और एक मिलकर ग्यारह बन जाना चाहिए।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि चीन भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक पार्टनर है। गौरतलब है कि भारत और चीन में पिछले कुछ महीनों से विवाद की स्थिति बनी हुई है। यह विवाद डोकलाम के चलते और बढ़ गया था। हांलाकि ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान दोनों देशों के राष्ट्रपति की मुलाकात ने रिश्तों में फिर से गर्माहट ला दी थी।