इस मामले में पाकिस्तान और श्रीलंका से पीछे भारत

नई दिल्ली (8 जून): भले ही रिलायंस जियो के आने के बाद भारत में इंटरनेट यूज करने वाले लोगों की जिंदगी में काफी बदलाव आया है, लेकिन 4जी इंटरनेट स्पीड मामले में हम अभी भी पाकिस्‍तान और श्रीलंका जैसे पड़ोसी देशों से कहीं पीछे हैं।

वास्‍तविकता यह है कि इंटरनेट स्पीड के मामले में विश्‍व में भारत 74वें स्‍थान पर है और पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे देशों से भी पीछे है। हम केवल कॉस्टा रिका से ऊपर हैं। सिंगापुर 4G स्पीड के मामले में सबसे ऊपर है, जबकि साउथ कोरिया दूसरे नंबर पर है। 4G डाउनलोड स्पीड का वैश्विक औसत 16.2 Mbps है।

भारत में 4G और हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड की औसत डाउनलोड स्पीड 5.1 Mbps है, जो ग्लोबल एवरेज के एक-तिहाई से भी कम है। देश में एवरेज 3G स्पीड 1 Mbps से भी कम है। टेलिकॉम रेगुलेटर TRAI की मानें तो कुछ उपभोक्‍ताओं के लिए तो यह यह स्‍पीड 10Kbps से भी कम हो जाती है। ओपनसिंगल के हवाले से कहा है कि भारत में डाउनलोड स्पीड पिछले 6 महीनों में 1Mbps से भी ज्यादा घटी है।

इंटरनेट की सुस्त स्पीड के कारण TRAI को टेलिकॉम ऑपरेटरों के वायरलेस ब्रॉडबैंड प्लान्स के तहत दी जा रही डेटा स्पीड पर नजर डालने के लिए मजबूर होना पड़ा है। TRAI को पिछले कुछ वक्त में बड़ी संख्या में उपभोक्‍ताओं की शिकायतें मिली हैं जिनमें कहा गया है कि उन्हें स्लो डेटा स्पीड मिल रही है।