पाक को लगेगा झटका, भारत का रणनीतिक साझीदार बनेगा UAE

नई दिल्ली ( 23 जनवरी ): अक्सर पाकिस्तान के करीब रहे यूएई के भारत के साथ आने के संकेत मिल रहे हैं। यूएई के सशस्त्र बलों के डेप्युटी सुप्रीम कमांडर और अबू धाबी के शहजादे शेख मोहम्मद बिन जायेद अल नाहयान मंगलवार को भारत पहुंच रहे हैं। माना जा रहा है कि इस यात्रा के दौरान दोनों देश व्यापक रणनीतिक भागीदारी को अंतिम रूप देंगे।

बिन जायेद गणतंत्र  दिवस के मौके पर परेड के दौरान मुख्य अतिथि होंगे। अबू धाबी के शहजादे पिछले साल फरवरी के बाद मंगलवार को दूसरी भारत पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनकी मुलाकात के दौरान रणनीतिक भागीदारी के तहत रक्षा, ऊर्जा सुरक्षा, स्पेस आदि पर सहयोग के समझौते को अंतिम रूप दिया जा सकता है। हाल ही में विदेश राज्य मंत्री और यूएई के उनके समकक्ष के बीच रणनीतिक मसलों पर बातचीत हुई है।

यूएई ने भारत में हाल में हुए टेरर अटैक की निंदा करते हुए आतंकवाद के खिलाफ भारत के सभी कदमों का समर्थन किया है। माना जा रहा है कि शहजादे की यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच 16 समझौते हो सकते हैं। भारत एयर डिफेंस सिस्टम डिवेलप करने में यूएई की मदद कर सकता है। समुद्री गश्त के लिए नौकाएं मुहैया करा सकता है। पुराने सुरक्षा उपकरणों को नया जीवन देने का काम भी हो सकता है।

मेक इन इंडिया के तहत भारत जिन रक्षा उपकरणों का निर्माण कर रहा है, उसके लिए यूएई बड़ा बाजार हो सकता है। यूएई बड़े रक्षा खर्च वाले देशों में है।