भारत आतंकवादी हमलों का तीसरा सबसे बड़ा निशाना- अमेरिका

नई दिल्ली (23 जुलाई): भारत आतंकी हमलों का तीसरा सबसे बड़ा निशाना है। इस बात का खुलासा एक अमेरिकी रिपोर्ट में हुआ है। अमेरिकी स्टेट डिपार्टमेंट द्वारा पेश किए गए रिपोर्ट के मुताबिक भारत का नंबर पीड़ित देशों की लिस्ट में अफगानिस्तान और इराक के बाद तीसरे स्थान पर है। आतंकी हमलों में पाकिस्तान से अधिक लोग भारत में मारे जाते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक साल 2016 में दुनियाभर में कुल 11 हजार 72 आतंकी हमले हुए, इनमें से 927 हमले भारत में हुए, जबकि 2015 में भारत में 798 आतंकी हमले हुए। यूएस स्टेट डिपार्टमेंट की ओर जारी आंकड़ों में बताया गया है कि साल 2015 की तुलना में साल 2016 भारत में आतंकी हमले बढ़े हैं। भारत में 798 हमले साल 2015 में हुए, जो साल 2016 में बढ़कर 927 तक पहुंच गए। इन हमलों में 337 लोगों की जानें गई और 636 लोग गंभीर रुप से घायल हुए। वहीं, भारत की तुलना में पाकिस्तान में आतंकी हमले 27 फीसदी घटे हैं। पाकिस्तान में साल 2015 में 1,010 हमलों की वजह साल 2016 में 734 हमले हुए। पिछले साल पाकिस्तान इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर था, पर भारत में बढ़े आतंकी हमलों ने उसे चौथे स्थान पर ढकेल दिया।


अमेरिकी रिपोर्ट के सामने आने के बाद हैरान करने वाली बात यह है कि रिपोर्ट में कहा गया है कि नक्सलियों का संगठन दुनिया का तीसरा सबसे घातक आतंकी संगठन है। पहले नंबर आईएसआईएस है तो दूसरे नंबर पर तालिबान है। बीते साल हुए 334 आतंकी हमलों के पीछे माओवादियों का हाथ बताया गया। इनमें 174 लोग मारे गए और 141 घायल हुए। साल 2016 में भारत में हुए आतंकी हमलों में से आधे से ज्यादा जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़, मणिपुर और झारखंड में हुए।