विराट कोहली नहीं चाहते थे कि कुंबले बने टीम के कोच!

नई दिल्ली (2 जून): भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली नहीं चाहते थे कि पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले को टीम का कोच बनाया जाए। वहीं क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) चाहती थी कि अनिल कुंबले को कोच बनाया जाए।

इसी की बजह से विराट कोहली को इसके लिए राजी करवाया गया था और इसके बाद अनिल कुंबले को एक साल के लिये भारतीय क्रिकेट टीम का कोच बनाया गया। आपको बता दें कि शिरके पिछले साल कोच का चयन करने वाली समिति के सदस्य थे।

हालांकि शिरके ने यह कहते हुये अपनी जिम्मेदारी से बचते हुये दिखे कि उस समय ऐसी कई बातें सुनने को नहीं मिल रही थीं। शिरके ने बताया कि उस समय बीसीसीआई के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने पहल की और दोनों पार्टियों से बातचीत कर यह फैसला लिया कि सीएसी द्वारा कुंबले का नाम कोच के लिए रखा जा रहा हैं

शिरके ने कहा कि मुझे लगता है कि कुंबले को एक साल के कॉन्ट्रेक्ट पर इसलिए ही रखा गया था ताकि हम साथ में काम कर यह समझ सकें कि उनके नेतृत्व में कैसा काम होता है। सीएसी में पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण शामिल हैं। इन लोगों ने रवि शास्त्री की जगह कुंबले को टीम का कोच बनाने का फैसला किया है। जबकि शास्त्री ने दो साल टीम के निर्देशक के रूप में काम किया था। इसके बाद कुंबले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोच की भूमिका को पूरा नहीं कर पाए और उन्हें 21 सदस्यों की शॉर्टलिस्ट से बाहर कर दिया गया।

शिरके ने बताया कि लिस्ट से नाम बाहर होने की बात पता चलने के बाद कुंबले ने उन्हें फोन कर भारतीय टीम का कोच बनने की इच्छा जाहिर की थी। जिसपर शिरके ने उनसे कहा था कि कोच का चयन किसी की सिफारिश पर नहीं किया जाएगा ।