हॉकी वर्ल्ड कप 2018: टीम इंडिया की धमाकेदार जीत से कोच खुश, कही ये बात

न्यूज 24 ब्यूरो,नई दिल्ली (28 नवंबर): भारत ने बुधवार को विश्व कप हॉकी के पहले मैच में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से रौंदकर अपने अभियान की शानदार शुरुआत की।  मनप्रीत सिंह की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने आज यहां टूर्नामेंट के दूसरे मैच में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से रौंद डाला। भारत की इस जीत के हीरो सिमरनजीत सिंह रहे, जिन्‍होंने टीम के लिए दो गोल (43वां और 46 वां मिनट) दागे।

मनदीप सिंह,आकाशदीप सिंह और ललित उपाध्‍याय ने एक-एक गोल दागा। घरेलू दर्शकों की जबर्दस्‍त हौसला अफजाई के बीच भारतीय टीम ने मैच में जोरदार शुरुआत की और पहले ही क्‍वार्टर में मनदीप और आकाशदीप के गोल के सहारे 2-0 की बढ़त हासिल कर ली। दूसरा क्‍वार्टर गोलरहित रहा लेकिन इसके बाद  भारत ने तीन और गोल दागकर दक्षिण अफ्रीका के हौसले को तोड़ दिया। मैच भारतीय टीम ने शानदार अंदाज में 5-0 से जीता।

हरेंद्र ने उसके प्रदर्शन के बारे में कहा, 'उसकी परिधीय दृष्टि बहुत अच्छी है, लिहाजा हमने उसे लिंकमैन की भूमिका सौंपी। उसने यह काम बखूबी किया और सर्कल के भीतर हमारे तीन स्ट्राइकर दौड रहे थे।' उन्होंने कहा, 'पंद्रह बरस पहले धनराज पिल्लै ने 2002 वर्लड कप से अपनी भूमिका बदली थी। वह प्लेमेकर बन गए और दीपक ठाकुर तथा प्रभजोत सिंह गोल करते थे। हर विभाग में हमारे पास एक अगुआ है। आगे भी हम इसी तरह से खेलते रहेंगे।'

साउथ अफ्रीका के कोच मार्क होकिंस ने कहा, 'मैं नतीजे से निराश हूं। हम अपनी रणनीति पर अमल नहीं कर सके। हमने मौके नहीं भुनाए, जबकि भारत ने भुनाए।'  

भारत के लिए चिग्‍लेंसाना का यह 200वां इंटरनेशनल मैच रहा। मैच देखने के लिए भारत के पूर्व फारवर्ड धनराज पिल्‍लै भी दर्शक दीर्घा में मौजूद थे। भारत टीम ने जोरदार शुरुआत करते हुए विपक्षी गोल पर हमले बोले, लेकिन फिनिशिंग के अभाव में इनका लाभ नहीं उठाया जा सका।

आकाशदीप, मनदीप और दिलप्रीत की अगुवाई में भारतीय टीम ने ये हमले बोले थे। पहले क्‍वार्टर के खत्‍म होने के पहले मनदीप सिंह को एक मौका मिला था लेकिन वे गेंद को नियंत्रित करने में नाकाम रहे और यह मौका हाथ से जाता रहा।