ऑस्ट्रेलिया में ये कारनामा करने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज़ बने धोनी

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 जनवरी): भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच आज मेलबर्न के ऐतिहासिक एमसीजी ग्राउंड पर तीन मैचों की वनडे सीरीज पर भारत ने कब्जा जमा लिया है। मेलबर्न वनडे में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से मात देकर भारत ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर पहली बार कोई बाइलैटरल (द्विपक्षीय) वनडे सीरीज जीतने का विराट कारनामा किया है। इस मुकाबले में 6 विकेट लेने वाले चहल मैन ऑफ द मैच बनें वहीं सीरीज के तीनों मुकाबलों में अर्धशतक जड़ने वाले धोनी मैन ऑफ द सीरीज़ रहे।

भारत ने कंगारुओं की धरती पर पहली बार कोई बाइलैटरल (द्विपक्षीय) वनडे सीरीज में जीत हासिल की है। इस वनडे सीरीज जीत के साथ ही भारत ने 2018-2019 ऑस्ट्रेलियाई दौरे का अंत बिना कोई सीरीज गंवाए किया है। यह पहला मौका है जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में एक ही दौरे पर दो सीरीज (टेस्ट और वनडे) अपने नाम की है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज 1-1 की बराबरी पर खत्म की। उसके बाद टेस्ट सीरीज में 2-1 से ऐतिहासिक जीत दर्ज की और अब वनडे इंटरनेशनल सीरीज भी भारत 2-1 से जीतने में कामयाब रहा।

धोनी ने जीत के लिए 231 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 74 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया। ये सीरीज में उनका लगातार तीसरा अर्धशतक है। विराट ने सिडनी में खेले गए मैच में 51 और एडिलेड में नाबाद 55 रन की पारी खेली थी। उनके बल्ले के रन उगलने का सिलसिला एमसीजी के ऐतिहासिक मैदान पर भी जारी रहा। 

मेलबर्न वनडे से पहले धोनी और उनके प्रशंसकों की नजरें एक शानदार रिकॉर्ड पर थी। वह ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर 1 हजार रन बनाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बनने से महज 34 रन दूर थे। ऐस में उन्होंने अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान ये उपलब्धि हासिल कर ली। धोनी से पहले ऑस्ट्रेलिया में 1 हजार एकदिवसीय रन बनाने का कमाल सिर्फ तीन भारतीय बल्लेबाज कर पाए थे। ये तीन बल्लेबाज- पूर्व दिग्गज सचिन तेंदुलकर, मौजूदा कप्तान विराट कोहली और मौजूदा उप-कप्तान रोहित शर्मा हैं।