नासिक: जिला अस्पताल में वेंटिलेटर की कमी से 6 महीने में 241 बच्चों की मौत

नई दिल्ली (9 सितंबर): गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते हुई मौते बाद अब महाराष्ट्र के नासिक के जिला अस्पताल में पिछले 6 महीने में वेंटिलेटर की कमी के चलते 241 बच्चों की मौत की खबर है। इसमें सबसे ज्यादा अगस्त के महीने में 55 नवजातों की जान जाने की बात सामने आई है। 

हालांकि अस्पताल प्रशासन का कहना है कि ये मौतें वेंटिलेटर की कमी के चलते नहीं बल्कि इसके पीछे दूसरी कई वजहें हैं।जैसे प्रीटर्म डिलिवरी और कम वजन के बच्चों के जन्म लेने से उनकी मौत की आशंका रहती है। इतने बच्चों की मौत के बाद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री दीपक सावंत ने सिविल सर्जन सुदेश जगदले को बुलाकर इसकी जानकारी ली और अस्पताल में चिकित्सा की कमियों के बारे में पूछा।

अस्पताल के डॉक्टर डॉ जे. एम. होले ने बताया कि अगस्त में अस्पताल में 55 बच्चों की जान गई। उन्होंने बताया कि इसके पीछे मुख्य कारण यह है कि अस्पताल में वेंटिलेटर्स नहीं हैं।