तमिलनाडु के प्रमुख सचिव की बढती मुश्किलें

नई दिल्ली(21 दिसंबर): तमिलनाडु के मुख्य सचिव राम मोहन राव के घर पर आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा है। चेन्नै में अन्ना नगर स्थित राव के घर आयकर विभाग की टीम मौजूद है और घर की तलाशी ले रही है।  

- इससे पहले खनन कारोबारी शेखर रेड्डी के यहां आयकर छापे पड़े थे। रेड्डी को मुख्य सचिव का करीबी माना जाता है। छापों को रेड्डी के यहां पड़े छापों से जोड़कर देखा जा रहा है।

- आयकर विभाग की टीम सुबह साढ़े 5 बजे से ही राव के घर छापेमारी कर रही है। छापे में आईटी के 5 अधिकारी शामिल हैं। आयकर अधिकारी मुख्य सचिव और उद्योगपति शेखर रेड्डी के बीच कनेक्शन की भी जांच कर रहे हैं।

- इससे पहले दिसंबर के दूसरे हफ्ते में आयकर विभाग की टीमों ने उद्योगपति शेखर रेड्डी के ठिकानों पर छापेमारी की थी। छापे में रेड्डी और उनके सहयोगियों के यहां से 142 करोड़ रुपये से ज्यादा के कैश बरामद हुए थे। इसके अलावा 127 किलोग्राम से ज्यादा सोना भी मिला था।

- रेड्डी ठेकेदार है और उसने तमिलनाडु सरकार के लिए कई काम कराए हैं। रेड्डी के कई टॉप ब्यूरोक्रेट्स के साथ ही मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम से भी नजदीकी रिश्ते बताए जाते हैं।

- रेड्डी तिरुपति के तिरुमाला मंदर में ट्रस्ट का भी सदस्य था, लेकिन छापों के बाद ट्रस्ट से उसे हटा दिया गया। माना जा रहा है कि रेड्डी के यहां छापेमारी के दौरान आयकर विभाग के हाथ कुछ ऐसे दस्तावेज भी मिले थे जिससे उसके और मुख्य सचिव राम मोहन राव के नजदीकी संबंधों के संकेत मिले। इसी के बाद आयकर विभाग ने मुख्य सचिव के यहां छापेमारी की।