'आप' को आयकर विभाग ने भेजा 30 करोड़ का नोटिस, मांगा जवाब

नई दिल्ली ( 27 नवंबर ): अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी (आप) को करारा झटका लगा है पार्टी के चंदे में अनियमितता को लेकर 'आप' को आयकर विभाग ने 30 करोड़ 67 लाख रुपये का नोटिस भेजा है। पार्टी पर आरोप है कि उसने 2014 में अपने चंदे को लेकर जो सूचनाएं विभाग को दीं वो सही नहीं थीं।

आयकर विभाग ने पार्टी ने पूछा है कि क्यों ने उससे ये रकम वसूली जाए। आयकर विभाग ने आम आदमी पार्टी से 7 दिसंबर तक जवाब मांगा है

बता दें कि आम आदमी पार्टी ने 26 नवंबर को पांच साल पूरे किए हैं। इस मौके पर पार्टी ने रामलीला मैदान पर इसका जश्न भी मनाया। लेकिन इसके अगले ‌ही दिन पार्टी पर भ्रष्टाचार के एक मामले में ही आयकर विभाग ने नोटिस भेज दिया। 

आयकर विभाग के इस नोट‌िस के बाद आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय खंजाची दीपक वाजपेयी ने प्रेस कांफ्रेंस कर आयकर की नोट‌िस को बोगस और आधारहीन करार दे द‌िया। दीपक ने कहा क‌ि यह पहली बार हुआ है क‌ि क‌िसी पार्टी के चंदे को गैर-कानूनी ठहराया गया है।

हमारा चंदा पव‌ित्र है और हमने एक-एक पैसे की जानकारी दी है। हमने दूसरी पार्ट‌ियों  की तरह चंदे के रूप में काले धन का इस्तेमाल नहीं क‌िया। दीपक बोले क‌ि क‌ि हमने अपने चंदे को हमेशा पारदर्शी रखा है।

यह नोट‌िस आप की क्रांत‌ि को कुचलने की कोश‌िश है लेक‌िन ये क्रांत‌ि वो गुलाब का पौधा है क‌ि उसे ज‌ितना कलम क‌िया जाएगा वह उतनी खुश्बू ब‌िखेरेगा। हमारे ख‌िलाफ ये शत्रुतापूर्ण कार्रवाई की गई  है।