लालू की महारैली पर आयकर विभाग ने भेजा नोटिस, पूछा- कहां से आया इतना पैसा?

नई दिल्ली ( 1 सितंबर ): राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। अभी हाल ही में आयकर विभाग ने लालू की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव और बेटी मीसा भारती से बेनामी संपत्ति के मामले में पूछताछ की थी। अब पटना के गांधी मैदान में रविवार को आयोजित लालू प्रसाद यादव की महारैली में खर्च को लेकर आयकर ने लालू पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इस महारैली को लेकर आयकर विभाग ने आरजेडी को नोटिस जारी किया है। आयकर विभाग ने इस महारैली में खर्च को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है।

आयकर विभाग ने आरजेडी को नोटिस जारी कर पूछा है कि आखिरी रविवार को आयोजित रैली के लिए पैसा कहां से जुटाया गया। 

गौरतलब है कि रविवार को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में 'देश बचाओ, बीजेपी भगाओ' रैली आयोजित की थी। रैली में लालू यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा था।

इस रैली में लालू यादव और उनके परिवार के अलावा शरद यादव, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, गुलाम नबी आजाद, सीपीआई नेता डी राजा, कांग्रेस के हनुमंत राव, डीएमके के एलांगोवन, एनसीपी के तारिक अनवर मंच पर मौजूद थे। रैली में हिस्सा लेने के लिए आरजेडी के जो भी समर्थक पटना पहुंचे थे, उनके रहने और खाने पीने का इंतजाम पार्टी के 80 विधायक, सात पार्षद और तीन सांसदों के जिम्मे था। 

कार्यकर्ताओं के रहने के लिए बड़े-बड़े शामियाने लगाए गए थे। भोजन की पूरी व्यवस्था की गई थी। मालूम हो कि रविवार को महारैली का आयोजन करने को लेकर आयकर विभाग ने एक बार फिर से लालू के परिवार वालों पर शिकंजा कसा है।