बेटे की चाहत में इस गांव में लोग कर रहे हैं दो शादियां

जयपुर (21 मई): अगर आप से कहा जाए कि आज भी देश में ऐसी जगह हैं जहां पर दो पत्नियां रखने की रिवाज है तो आप शायद मानने से इंकार कर दें। लेकिन राजस्थान में जैसलमेर के एक गांव से दो पत्नियां रखने की रिवाज की खबर आई है। जी हां जैसलमेर के डेरासर ग्राम पंचायत की रामदेयो की बस्ती नामक गांव में हर दूसरे घर में एक पुरुष के पास दो पत्नियां हैं। खबरों के मुताबिक यहां के पुरुषों का कहना है कि पहली पत्नी गर्भधारण करने में नाकाम रही या फिर बेटी को ही जन्म दिया, जिस वजह से उन्हें दोबारा शादी करनी पड़ी।हलांकि इस परम्परा का असर नई पीढ़ी में बेहद ही कम है। गांव के एक बुजुर्ग का कहना है कि दूसरी पत्नी को बेटे की गारंटी के तौर पर देखा जाता है। दो पत्नियां होने के बाद घर एकजुट रहे इसके लिए एक ही रसोई में साथ में खाना पकाया जाता है। इस गांव के लोगों का कहना है कि अपनी पत्नियों को खुश रखने की जिम्मेदारी पुरुषों की होती है और उनका पूरा ख्याल रखा जाता है। ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो। बहराल, एक तरफ देश में सरकार बेटियों को लेकर सजग दिखाई दे रही है, तो वहीं दूसरी तरफ राजस्थान के इस गांव के लोग बेटे की चाहत में दो-दो शादी कर रहे हैं।