पहली बार सीएम योगी ने अखाड़ा परिषद के साथ की शाही स्नान की तारीखों की घोषणा

नई दिल्ली ( 20 मई ): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को संगम नगरी इलाहाबाद पहुंचे। सीएम योगी अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की संयुक्त बैठक में शामिल हुए और कुम्भ- 2019 के शाही स्नान की तिथियों की घोषणा की गई।पहला शाही स्नान मकर संक्रांति 15 जनवरी (मंगलवार), दूसरा शाही स्नान मौनी अमवस्या (4 फरवरी) और तीसरा बसंत पंचमी (10 फरवरी) को होगा। इस बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा कई मठों के संत और महंत मौजूद थे।सीएम के दौरे से पहले अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने कुम्भ मेले में शाही स्नान के बहिष्कार का अपना फैसला वापस ले लिया है। परिषद ने कहा है कि यह फैसला उसने सीएम योगी के सम्मान में लिया है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी का कहना है कि सीएम योगी भी एक संत हैं और कुम्भ मेले को लेकर सीएम के साथ अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की शनिवार को बैठक भी प्रस्तावित है इसलिए बैठक से पहले 16 मार्च को लिया गया शाही स्नान के बहिष्कार का फैसला सर्व सम्मति से वापस ले लिया जाता है।इस बार कुम्भ मेले में 15 जनवरी को मकर संक्रान्ति, 21 जनवरी पौष पूर्णिमा, 04 फरवरी मौनी अमावस्या, 10 फरवरी बसंत पंचमी और 19 फरवरी माघ पूर्णिमा और चार मार्च को महाशिवरात्रि के स्नान पर्व के साथ मेले का समापन होगा।