इमरान खान बोले, मुश्किल हालात में सचिन से बेहतर बैट्समेन हैं विराट

नई दिल्ली(15 जून): पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इमरान खान ने कहा है कि मुश्किल हालात में सचिन तेंडुलकर से बेहतर बल्लेबाज विराट कोहली हैं। इमरान ने कोहली की जमकर तारीफ करते हुए ये भी कहा है कि विराट पैदायशी तौर पर ही शानदार और कम्पलीट बैट्समेन हैं।

एक इंटरव्यू के दौरान इमरान ने कहा कि क्रिकेट के अपने दौर होते हैं। 1980 के दौर में विवियन रिचर्ड्स और उसके बाद ब्रायन लारा और सचिन तेंडुलकर का वक्त आया। लेकिन विराट सबसे ज्यादा कम्पलीट बैट्समेन हैं। वे दोनों पैरों से बराबर मूवमेंट करते हुए फील्ड के किसी भी हिस्से में स्ट्रोक खेल सकते हैं। 

खान ने आगे कहा कि वो सिर्फ टैलेंटेड ही नहीं बल्कि टेम्परामेंट के तौर पर भी बेहतरीन प्लेयर हैं। इस मामले में वो सचिन से भी ज्यादा आगे हैं। विराट ने बेहद मुश्किल हालात में भी शानदार खेल दिखाया है जो सचिन नहीं कर पाते थे। इमरान खान टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान पाकिस्तान की हार से दुखी हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को हारते देखना दुखद था। लेकिन कोहली ने शानदार बैटिंग की थी और ये बात में एक बॉलर के तौर पर कह रहा हूं। सिर्फ ये देखना चाहिए कि जब हालात खराब होते हैं तो वो कैसा खेलते हैं। इसमें कोई दो राय नहीं कि आज की तारीख में वो सबसे बेहतरीन बैट्समेन हैं। आप उनकी बैटिंग देखने कहीं भी जा सकते हैं।

इमरान टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान भारत में ही थे। इस दौरान उनकी नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात हुई थी। इमरान ने मोदी से कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट के रिश्तों की बहाली होनी चाहिए।  इस बारे में खान ने कहा कि दोनों देशों के बीच क्रिकेट टूर्स शुरू होने चाहिए। लेकिन ये पहला मौका था जब मैं मोदी से मिला था। अगर ये दूसरी मुलाकात होती तो मैं कह सकता था कि ये बहुत इमैच्योर फॉरेन पॉलिसी है।

बता दें कि दोनों देशों के बीच 2008 से बाइलेट्रल क्रिकेट सीरीज नहीं हो सकी है। क्रिकेट को दूसरे मसलों से अलग रखने की वकालत करते हुए पाकिस्तान के इस पूर्व कप्तान ने कहा कि हर किसी ने मुंबई और पठानकोट हमलों की निंदा की है। हम भारत से ज्यादा आतंकी हमले झेलते हैं। ऐसे में विक्टिम को सजा देना सही नहीं है, ये इमैच्योर फॉरेन पॉलिसी है।