इमरान खान ने बुलाया बंद, पाक शेयर मार्केट में 350 करोड़ रु. डूबे

नई दिल्ली(29 अक्टूबर): पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के चेयरमैन इमरान खान ने 2 नवंबर को इस्लामाबाद में बड़े पैमाने पर बंद का एलान कर रखा है। पाकिस्तान के स्टॉक मार्केट पर इसका असर दिखने लगा है। 

- एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, स्टॉक मार्केट को इसके चलते 350 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। दूसरी ओर, इमरान ने कहा है कि 50 हजार पुलिस वाले भी 'सुनामी2' को रोक नहीं पाएंगे।

- द एक्सप्रेस ट्रिब्यून अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, '20 अक्टूबर को पाक स्टॉक मार्केट में 3.75% प्वांइट्स की रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई थी।' 

- 'पांच ट्रेडिंग सेशन के दौरान बेंचमार्क-100 इंडेक्स 1,558.64 प्वांइट्स नीचे गिर गया। इसके चलते 350 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ।' 

- बता दें कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने 2 नवंबर को राजधानी में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन की योजना बनाई है। 

- इमरान की पार्टी ने नवाज शरीफ सरकार पर कामों में ट्रांसपरेंसी (पारदर्शिता) की कमी का आरोप लगाया है। 

- पनामा पेपर्स लीक में शरीफ का नाम सामने आने को लेकर इमरान ने उनसे इस्तीफा देने की मांग की है। 2 नवंबर को होने वाले बंद की योजना शरीफ पर दबाव बनाने के मकसद से ही की गई है।

- स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है- 'इमरान के प्रदर्शन से पहले राजनीतिक अस्थितरता बढ़ने से इन्वेस्टर्स डरे हुए हैं। इस विरोध में धार्मिक दलों के शामिल होने से हालात और बिगड़ गए हैं।'

- 'इसके अलावा राजनीतिक मोर्चे पर बने कुछ नाजुक हालातों की वजह से भी इन्वेस्टर्स में भय पैदा हुआ है। 2 नवंबर के प्रदर्शन से निकलने वाले नतीजे को लेकर मार्केट में डर फैल गया है।'