हर पति-पत्नी के लिए है ये खबर, कहीं आपका तो नहीं बन रहा MMS

एम जावेद, ग्वालियर (4 मई): भागती दौड़ती जिंदगी में दो दिन की छुट्टी मिली तो प्लान बनाया जाता है आउटिंग का। लेकिन अगर सावधानी नहीं बरती तो आप बहुत बड़ी मुसीबत में फंस सकते हैं। ग्वालियर के एक होटल में ब्लैकमेलिंग का MMS बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। होटल के कमरे में खुफिया कैमरे लगाकर ये कपल्स के निजी पलों को फेसबुक पर डाल देते थे।


शादी से पहले अपनी मंगेतर के साथ एक लड़का छुट्टियां मनाने ग्वालियर पहुंचा। दोनों ने एक होटल में रूम बुक कराया, वो दोनों अपने जीवन और भविष्य के हसीन सपने देख थे। लेकिन फेसबुक पर आए एक मैसेज ने उनकी जिंदगी में उथल पुथल मचा थी। फेसबुक पर एक वीडियो लिंक था, जिसमें उनके निहायत निजी पल जमाने के सामने थे। फेसबुक का एक मैसेज दहशत के लिए काफी था। वीडियो फेसबुक से डिलीट करने के एवज में उनसे ढाई लाख रुपए की मांग की गई।


ऐसा और भी कई प्रेमी जोड़ियों के साथ हुआ होगा, लेकिन किसी ने सामने आने की हिम्मत नहीं थी। इस जोड़ी ने पुलिस में शिकायत की। होटल का पता बताया तो पुलिस ने छापा मारा और होटल में ब्लैकमेलिंग का काला कारोबार चलाने वाला गिरफ्त में आ गया। क्राइम ब्रांच ने ग्वालियर के उत्तम होटल के कमरों की तलाशी ली तो जगह जगह छिपे खुफिया कैमरे सामने आ गए। 


ये खुफिया कैमरे इतनी सफाई से छिपाए गए थे कि होटल में वक्त बिताने वालों को भनक तक नहीं लगती थी कि उनके निजी लम्हों को कई शातिर आंखें देख रही हैं। पुलिस ने इस मामले में उत्तम होटल के काम करने वाले भूपेंद्र और मैनेजर विमुक्तानंद को गिरफ्तार किया है। ब्लैकमेलर शातिर ने खुद कबूल किया कि वो खुद 5-6 लोगों के साथ छल कर चुका है।


होटल के कमरे में पंखे, नाईट बल्ब के होल्डर, इलेक्ट्रिक स्विच और बाथरुम तक में हाई रिजोल्यूशन स्पाई कैमरे फिट किए गए थे। ये कैमरे ऑनलाइन साइट्स से खरीदे गए थे, निजी लम्हे कैमरे में कैद होते ही ये शातिर बुकिंग के वक्त लिए गए आधार की जानकारियों के आधार पर ब्लैकमेलिंग शूरू कर देते थे।