आगरा: चुनाव से पहले अवैध हथियारों से सनसनी फैलाने की कोशिश नाकाम, पुलिस ने एक को पकड़ा

आगरा(28 जनवरी): उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले अवैध हथियारों को बनाए जाने की तैयारी जोरों पर चल रही थी। चुनाव में इन अवैध हथियारों से सनसनी फैलाने की साजिश रची जा रही थी।

- पुलिस ने असलहों की अवैध फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर दिया। लगभग 22 तैयार और 30 आधे तैयार तमंचों और सामान के साथ एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

- जानकारी के अनुसार, थाना हरीपर्वत के फ्रीगंज में रेलवे के बंद गोदाम में ऑन डिमांड सप्लाई के लिए असलहों की खेप तैयार की जा रही थी। काफी समय से आगरा पुलिस को मथुरा और आसपास के जिलों से विधानसभा चुनावों को प्रभावित करने के उद्देश्य से असलहा सप्लाई होने की सूचना मिल रही थी।

-सूचना पर असलहों की सप्लाई रोकने के लिए हरीपर्वत पुलिस के उपनिरीक्षक अभय प्रताप के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। 26 जनवरी की रात में पुलिस को फ्रीगंज के रेलवे गोदाम में अवैध असलहों की डीलिंग होने की जानकारी हुई।

-पुलिस ने छापा मारा तो 20 बने हुए 315 बोर के तमंचे, दो 12 बोर के बने हुए तमंचों के साथ करीब 30 अधबने तमंचे और काफी मात्रा में असलहा बनाने का सामान मिला है। पुलिस ने मौके से मथुरा के विजय खाती को हथियार बनाते हुए गिरफ्तार किया है। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त को जेल भेज दिया है।

-इंस्पेक्टर हरीपर्वत राजा सिंह ने बताया कि हथियारों की खेप चुनावों में सप्लाई होनी थी। पकड़े गए युवक को रिमांड पर लेकर साथियों के बारे में पता लगाया जाएगा।