IDS के तहत झूठी जानकारी देने वालों पर दर्ज हो सकता है मुकदमा

 

:नई दिल्ली(6 दिसंबर) IDS स्कीम के तहत झूठी जानकारी देने वालों पर मुकदमा दर्ज हो सकता है। ये बातें फाइनेंस सर्विस सेक्रेट्री हसमुख अधिया ने कही है। साथ ही उन्होंने बैंक लॉकर की जांच करने की योजना से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि एक से ज्यादा प्रोपर्टी पर लगाम लगाने की योजना भी नहीं है। 

मुंबई के एक परिवार ने खुलासा किया था 2 लाख करोड़ आय का....

- हाल ही में इनकम डेक्‍लरेशन स्‍कीम (आईडीएस) के तहत मुंबई के एक परिवार ने 2 लाख करोड़ रुपये की आय घोषित की थी। इस परिवार ने बांद्रा स्थित जिस मकान का पता दिया है, वहां पर पिछले सात साल से कोई नहीं रह रहा है और घर बिल्‍कुल सुनसान पड़ा है।

- बांद्रा का यह सैयद परिवार रविवार को तब सुर्खियों में आया था जब वित्‍त मंत्रालय ने खुलासा किया था कि इस परिवार ने आईडीएस के तहत 2 लाख करोड़ रुपये की आय की घोषणा की है। 

- दरअसल वित्‍त मंत्रालय ने जो खुलासा किया था, उसके मुताबिक, सैयद परिवार में चार लोग हैं। अब्‍दुल रज्‍जाक मोहम्‍मद सैयद, उनके बेटे आरिफ, पत्‍नी रुखसाना और बहन नूरजहां। मंत्रालय ने जो पता बताया था, वह फ्लैट नंबर 4, ग्राउंड फ्लोर, जुबली कोर्ट, 269-B, TPS-III, लिंकिंग रोड, बांद्रा (पश्चिम) था।

- जुबली कोर्ट बिल्डिंग के सेक्रटरी ने बताया कि यह फ्लैट एक कंपनी के नाम पर है। उन्‍होंने कहा, 'पिछले 7 सालों के दौरान यहां कोई भी नहीं रहा है। हर छह महीने पर कोई आकर रखरखाव संबंधी खर्च दे जाता है।'

- इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट के सूत्रों ने बताया कि डिपार्टमेंट ने इस परिवार के खिलाफ जांच शुरू कर दी है, लेकिन इस मामले में अभी तक किसी से पूछताछ नहीं हुई है। सूत्रों ने बताया कि फॉर्म में अब्‍दुल का पैन कार्ड जमा किया गया था और पिछले तीन साल के उसके इनकम टैक्‍स रिटर्न्‍स की भी जांच की गई है।